मनमोहन सिंह बोले, मैं सावरकर के खिलाफ नहीं, लेकिन हम उनकी हिंदुत्व की विचारधारा का समर्थन नहीं करते

मनमोहन सिंह बोले, मैं सावरकर के खिलाफ नहीं, लेकिन हम उनकी हिंदुत्व की विचारधारा का समर्थन नहीं करते

मुंबई: महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव 2019 के लिए अपने मैनिफेस्टो में भाजपा ने वीर सावरकर को भारत रत्न दिलवाने का वादा किया है. इस मुद्दे पर कांग्रेस फंसती नज़र आ रही है. पहले कांग्रेस ने वीर सावरकर को भारत रत्न देने पर विरोध जताया, तो गुरुवार को पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने मुंबई में प्रेस वालों से कहा है कि कांग्रेस के शासनकाल में वीर सावरकर के लिए डाक टिकट जारी किया गया था.

हालांकि मनमोहन सिंह ने ये भी कहा कि वे वीर सावरकर के विरुद्ध नहीं हैं, किन्तु उन्होंने हिंदुत्व की जिस विचारधारा का सावरकर समर्थन करते थे, कांग्रेस उसके पक्ष में नहीं है. इससे पहले कांग्रेस ने मंगलवार को हिंदू महासभा के संस्थापक विनायक दामोदर सावरकर को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले भारत रत्न दिए जाने की भाजपा की मांग पर सवाल खड़े किए थे.

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा था कि, 'मैं हैरान हूं कि एक ओर भाजपा महात्मा गांधी की तारीफ कर रही है और दूसरी ओर सावरकर के लिए भारत रत्न की मांग कर रही है. एक ऐसा देश, जहां महात्मा गांधी की हत्या को आत्महत्या करार दिया जा रहा है, वहां कुछ भी संभव हो सकता है. बहरहाल, गंभीरता से कहें तो सावरकर को महात्मा की हत्या के इल्जाम में आरोपित किया गया था, किन्तु यह सही है कि उन्हें बरी कर दिया गया था.'

कांग्रेस के आरोपों पर अमित शाह ने दिया जवाब, कहा- अगर वीर सावरकर ना होते तो हम अंग्रेज़ों .....

राजनाथ सिंह ने कश्मीर को बताया आंतरिक मसला, कांग्रेस से कहा- इसका अंतरराष्ट्रीयकरण न करें

ख़त्म हुआ जम्मू कश्मीर का विधान परिषद, 31 अक्टूबर से बनेंगे दो केंद्र शासित प्रदेश