कोरोना काल के बीच संसद का मानसून सत्र, मनमोहन-चिदंबरम सहित कई सांसदों ने ली छुट्टी

कोरोना काल के बीच संसद का मानसून सत्र, मनमोहन-चिदंबरम सहित कई सांसदों ने ली छुट्टी

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के बीच संसद का मानसून सत्र शुरू हो चुका है. मॉनसून सत्र के दौरान सांसदों को कई नियमों का पालन करते हुए सदन की कार्यवाही में शामिल होना है. इस बीच कई सांसदों ने मानसून सत्र में नहीं आने का फैसला लिया है. पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम सहित कई दिग्गज राज्यसभा सासंदों ने मेडिकल ग्राउंड्स पर सदन से छुट्टी ले ली है. 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को राज्यसभा स्पीकर वेंकैया नायडू ने इस संबंध में सदन में जानकारी दी. वेंकैया नायडू ने सदन को बताया कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह सहित कुल 13 सांसदों ने पत्र लिखकर मेडिकल ग्राउंड्स पर अवकाश मांगा है.  इन सांसदों में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम, पीएमके नेता ए. रामादोस, कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडिस, AIADMK के ए. नवनीत कृष्णन, YSR कांग्रेस के परिमल नथवानी का नाम शामिल हैं. इनके अलावा भी आम आदमी पार्टी (आप) के सुशील कुमार गुप्ता सहित अन्य 7 सांसदों ने भी छुट्टी ली है. 

नायडू के मुताबिक, नरेंद्र जाधव, बांदा प्रकाश, नवनीतकृष्णन के अलावा सभी सांसदों ने पूरे मानसून सत्र से छुट्टी ली है. जबकि इन तीन सांसदों ने कुछ ही दिनों का अवकाश लिया है. चिट्ठी को पढ़ने के बाद वेंकैया नायडू ने सभी सांसदों की छुट्टी को स्वीकृति दे दी है. आपको बता दें कि कोरोना काल में संसद सत्र की अवधि 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक रखी गई है. इस दौरान बिना किसी अवकाश के सदन की कार्यवाही जारी रहेगी. सदन के नियमों के मुताबिक, यदि किसी सांसद को लंबे वक्त के लिए छुट्टी लेनी हो तो राज्यसभा चेयरमैन को सूचित करना अनिवार्य है. 

Video: कमलनाथ के होर्डिंग हटाने पर भड़की कांग्रेस, जमकर हुआ तमाशा

पीएम मोदी के बर्थडे पर 'बेरोज़गार दिवस' मना रही कांग्रेस, राहुल बोले- रोज़गार को कब सम्मान देगी सरकार ?

अमेरिका चुनाव: बाइडेन बोले - मुझे कोरोना वैक्सीन और वैज्ञानिकों पर भरोसा, लेकिन ट्रम्प पर नहीं