अग्निपथ को लेकर कांग्रेस में दो फाड़, एक दल युवाओं को भड़का रहा और दूसरा...

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा लाई गई अग्निपथ योजना को लेकर पूरे देश में हिंसक विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था। युवा सड़कों पर उतर आए थे और विपक्ष ने भी इसे मुद्दा बनाकर सरकार को घेरने का प्रयास किया था। हालांकि, अब युवाओं और छात्रों का विरोध समझाइश के बाद शांत हो गया है, लेकिन कांग्रेस के बड़े नेता अब भी अग्निपथ योजना के खिलाफ माहौल बनाने में लगे हुए हैं। इसी बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता मनीष तिवारी ने अंग्रेजी समाचार पत्र में लेख लिखकर इस योजना की तारीफ की और अपना समर्थन भी जाहिर किया है। 

 

मनीष तिवारी ने 'अग्निपथ' को आधुनिकीकरण की व्यापक प्रक्रिया का एक हिस्सा करार दिया था। कांग्रेस ने सांसद मनीष तिवारी के इस लेख में प्रकट किए गए विचारों से दूरी बना ली है। कांग्रेस का कहना है कि यह योजना न सिर्फ राष्ट्रहित बल्कि युवाओं के भविष्य से भी खिलवाड़ है।  इस लेख को लेकर कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेता आपस में भिड़ गए। कांग्रेस के कम्युनिकेशन हेड जयराम रमेश ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने अग्निपथ पर लेख लिखा है। कांग्रेस एक लोकतांत्रिक दल है। यह कहना आवश्यक है कि ये  विचार उनके अपने हैं और पार्टी से इसका कोई वास्ता नहीं है। पार्टी मानती है कि यह योजना राष्ट्र की सुरक्षा और युवाओं के खिलाफ है, जिसे बगैर चर्चा के ही युवाओं पर थोप दिया गया है।
 
जयराम रमेश के ट्वीट के बाद मनीष तिवारी ने भी फ़ौरन प्रतिक्रिया दी। तिवारी ने लिखा कि, लेख की टैग लाइन में ही लिखा है कि ये लेखक के निजी विचार हैं। मेरा मानना है कि जयराम रमेश जी ने लेख को शुरू से अंत तक पढ़ा होगा। आप इसे यहां देख सकते हैं। बता दें कि ऐसा दूसरी दफा हुआ है जब कि कांग्रेस ने इस योजना को लेकर मनीष तिवारी के विचारों से अपने आप को अलग किया है। पहले भी मनीष तिवारी ट्वीट करके अग्निपथ का समर्थन कर चुके हैं। तब भी कांग्रेस ने बयान जारी कर इसे उनका निजी विचार कहा था। 

यूपी: उपचुनाव के नतीजे आते ही बसपा उम्मीदवार पर हुआ एक्शन, 5 करोड़ का आलीशान होटल सील

महाराष्ट्र के सियासी घमासान में हुई अमित शाह की एंट्री, क्या राज्य में बनेगी भाजपा सरकार ?

मतदान करने से वंचित रह गए 140 लोग, जाने पूरा मामला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -