मनीष सिसोदिया ने जारी की 200 से अधिक स्कूलों की लिस्ट, दिल्ली और पंजाब शिक्षा मॉडल को लेकर छिड़ेगी बहस

चंडीगढ़: पंजाब में आने वाले विधानसभा चुनाव से पहले AAP और कांग्रेस के शिक्षा मंत्री आमने-सामने आ चुके है। मनीष सिसोदिया ने पंजाब के शिक्षा मंत्री को दोनों राज्यों के स्कूल मॉडल पर बहस करने के लिए चुनौती दे चुके है। दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को 250 स्कूलों की सूची निकाल दी है। उन्होंने अनुमान लगया है कि आज शाम तक पंजाब के शिक्षा मंत्री भी पंजाब के 250 स्कूलों की लिस्ट भी जारी करने वाले है।  इससे पूर्व  पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने दिल्ली के 250 सरकारी स्कूलों में पिछले 5 वर्ष में हुए सुधारों की सूची प्रदान की जाने वाली है, जिसके उपरांत सिसोदिया ने रविवार को 250 स्कूलों की लिस्ट जारी कर दी गई है। 

पंजाब और दिल्ली के शिक्षा मॉडल पर होगी बहस: मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर बोला है कि चुनाव से पहले पंजाब और दिल्ली के शिक्षा मॉडल पर बहस होने वाली है। उसके पहले पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह दिल्ली के 250 गवर्नमेंट स्कूलों में पिछले 5 वर्ष में हुए सुधारों को देखना चाहते हैं। इसके उपरांत पंजाब के भी 250 स्कूलों में हुए सुधार के बारे में हमें दिखाकर उस पर बहस करने वाली है।

दोनों शिक्षा मॉडल्स को देख वोटर करेंगे वोट: उन्होंने बोला है कि मैंने 250 स्कूलों की सूची पेश कर दी है, जहां पिछले 5 वर्षों में शिक्षा में जबरदस्त सुधार देखने को मिला है। उम्मीद जताई कि पंजाब के शिक्षा मंत्री भी जल्द ही 250 स्कूलों की सूची जारी की जा रही है। जिसके उपरांत  परगट सिंह और मैं मीडिया के साथ, दिल्ली और पंजाब के 250 स्कूलों में जा सकें और फिर पंजाब और दिल्ली के शिक्षा मॉडल पर खुलकर बहस करने वाले है। दोनों शिक्षा मॉडल्स को देखकर पंजाब के वोटर अपने बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए वोट डालकर एक मॉडल चुन पाएंगे। 

CM योगी ने किया एथनॉल प्लांट का शिलान्यास, किसानों की तरक्की होगी, रोज़गार भी मिलेगा

मोदी सरकार ने मानी किसानों की ये मांग, कृषि मंत्री बोले- बड़ा दिल दिखाते हुए घर लौटें किसान

कुपोषण के मामले में UP-MP और बिहार सबसे आगे.., सिब्बल बोले- यहाँ तो कांग्रेस की सरकार नहीं

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -