ऐसे होता है होम मेड मैनीक्योर

ऐसे होता है होम मेड मैनीक्योर

पार्लर में तो सभी मैनीक्योर करवाते हैं लेकिन पैसे और समय की बचत करना चाहते हैं तो घर पर भी इसे आराम से किया जा सकता हैं। मैनीक्योर करने की एक पूरी प्रक्रिया होती है। यदि आप इस प्रक्रिया से अलग हटते हैं तो आपके हाथों पर इसका असर साफ देखने को मिलेगा। इसलिए जरूरी है कि हाथों को मैनीक्योर करने के लिए उचित प्रकिया ही अपनाएं। नेल पेंट को रिमूवर के जरिए साफ करें। कुछ रिमूवर नाखूनों व उसके आसापास की जगहों को रुखा कर देते हैं।

ऐसिटोन युक्त रिमूवर का प्रयोग ना करें। नाखूनों को काटते समय ध्यान रखें उन्हें बिल्कुल छोटा ना करें। उन्हें इस प्रकार काटें कि कम से कम सफेद हिस्सा दिखाई दे इससे हाथों का लुक खराब नहीं होगा। हल्के गर्म पानी में माइल्ड शैंपू मिला लें। कुछ देर हाथों को उसमें डुबोकर रखें। नाखूनों को साफ करने के लिए एक अच्छे ब्रश का इस्तेमाल करें। सूखे हुए नाखूनों पर क्यूटिल्स क्रीम लगाएं। इसके साथ ही क्यूटिल निकालने वाले यंत्र का प्रयोग करें। कभी भी क्यूटिल्स को काटने की जरूरत नहीं है।

हाथों की त्वचा कोमल होती है इसलिए माइल्ड स्क्रब का प्रयोग करना चाहिए। किसी अच्छी हैंड क्रीम की मदद से हाथों पर मसाज करें। इससे त्वचा में रक्त संचार बढ़ेगा और हाथ खूबसूरत दिखेंगे। नेल पेंट लगाना है तो पहले बेस से शुरु कर ब्रश को एक ही दिशा में न ले जाए। एक कोट लगाने के बाद अगर नेलपॉलिश बाहर फैल गई है तो उसे पेपर टॉवल से धीरे धीरे और सफाई के साथ पोंछ लें।

नेलपॉलिश लगाने वाली लडकिया रखे ये ध्यान