कर्ज की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें इस मंत्र का जाप हो जाएगी साडी परेशानी दूर

कर्ज की समस्या से छुटकारा पाने के लिए करें इस मंत्र का जाप हो जाएगी साडी परेशानी दूर

यदि आपने किसी से कभी भी कितना भी कर्ज लिया है तो कर्ज के लिए मुख्य रूप से मंगल ग्रह को जिम्मेदार माना जाता है. छठे भाव का स्वामी और छठा भाव भी कर्ज के लिए जिम्मेदार होता है. छठे भाव का स्वामी अच्छी अवस्था में ना होने पर और मंगल ग्रह पीड़ित होने पर कर्ज की समस्या बन जाती है.

मंगल ग्रह की क्या खासियत है-

- मंगल को नवग्रहों में सेनापतिका दर्जा दिया गया है.
- मंगल शक्ति, ऊर्जा, आत्मविश्वास और पराक्रम का स्वामी है.
-इसका मुख्य तत्त्व अग्नि तत्व है और इसका मुख्य रंग लाल है.
- ताम्बा इसकी धातु है और जौ लाल मसूर आदि इसकी दान के अनाज है.
- मेष और वृश्चिक इसकी राशियां हैं.
- मंगल मकर राशी में उच्च के होते है और कर्क राशी में नीच के होते है.

मंगल के अशुभ होने पर क्या दुष्परिणाम होते हैं-

- व्यक्ति क्रूर और हिंसक स्वभाव का हो जाता है.
- आत्मविश्वास और साहस का स्तर कमजोर होता है.
- व्यक्ति को संपत्ति और जमीन के मामले में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.
- व्यक्ति को रक्त सम्बन्धी समस्याएँ घेर लेती है
- अक्सर कर्ज और मुकदमेबाजी लगी रहती है और कभी कभी जेल यात्रा भी हो जाती है.
- अगर विवाह भाव से इसका सम्बन्ध हो तो वैवाहिक जीवन ख़राब हो जाता है हर रोज पारिवारिक कलह क्लेश बना रहता है

मंगल शुभ हो तो क्या परिणाम होते हैं-

- व्यक्ति साहसी और उदार होता है, उसमें आत्मविश्वास कूट कूट कर भरा होता है.
- व्यक्ति को साहस और तकनीकी क्षेत्रों में खूब सफलता मिलती है.

सूर्य नमस्कार से दूर होंगे जीवन के सारे अंधकार, जानें इसकी खासियत और लाभ

गायत्री मंत्र के जप से छात्रों को ऐसे मिलेगा महावरदान, जानिये क्या है चमत्कारिक महिमा

बजरंगबली के पूजन से दूर हो जायेंगे सारे कष्ट, जरूर करें ये 5 उपाय