अनंत चतुर्दशी पर जरूर करें ये 3 काम, टलेगा हर संकट

भाद्रपद मास की चतुर्दशी तिथि को अनंत चतुर्दशी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन प्रभु श्री विष्णु के अनंत रूप की उपासना होती है। साथ ही गणेश जी का विसर्जन भी होता है। इसी के साथ गणेश महोत्सव का समापन हो जाता है। अनंत चतुर्दशी को अनंत चौदस भी बोला जाता है। सनातन धर्म में इस पर्व की बेहद अहमियत मानी जाती है। इस दिन प्रभु श्री विष्णु के साथ 14 गांठों वाले अनंत की उपासना होती है तथा नारायण को अनंत अर्पित करने के पश्चात् इसे अपनी बांह पर रक्षा सूत्र के रूप में बांधा जाता है।

वही इस बार अनंत चौदस 19 सितंबर रविवार के दिन पड़ रही है। ज्योतिष विशेषज्ञों की मानें तो इस बार अनंत चौदस पर मंगल, बुध तथा सूर्य एक साथ कन्या राशि में विराजमान होंगे। इस प्रकार तीनों ग्रहों की युति की वजह से मंगल बुधादित्य योग बन रहा है। धार्मिक रूप से इसे खास योग माना जाता है। प्रथा है कि इस विशिष्ट योग में पूजा करने से श्रद्धालुओं के अनंत कष्ट दूर हो जाते है तथा सच्चे मन से मांगी गई मनोकामना अवश्य पूरी होती है। इसलिए इस बार अनंत चतुर्दशी के दिन तीन कामों को पूरी भक्ति से कीजिएगा जिससे आपके बड़े से बड़े संकट भी टल जाएं।

ये 3 काम अवश्य करें:-
1- व्रत  रखें
2- श्रद्धा के साथ पूजन करें
3- विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें

भक्तों के लिए सप्ताह के इस दिन खुला रहेगा पुरी का जगन्नाथ मंदिर

'धर्मान्तरण करने वाले नहीं लड़ सकेंगे पंचायत चुनाव...', झारखंड में आदिवासियों का ऐलान

आज इन 3 राशि के लोग भूलकर भी ना करें ये काम, वरना हो सकती है समस्या

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -