जमानत पर बाहर आया था युवक, इस वजह से दोस्त की माँ का कर दिया खून

Apr 06 2020 05:00 PM
जमानत पर बाहर आया था युवक, इस वजह से दोस्त की माँ का कर दिया खून

नागपुर से अपराध का नया मामला सामने आया है जो आपके होश उड़ा देगा. इस मामले में पैरोल पर जेल से जमानत पर आए गुंडे ने हवलदार की पत्नी की घर में घुसकर हत्या को अंजाम दिया है. जी हाँ, मिली जानकारी के मुताबिक नंदनवन पुलिस ने उसे 10 अप्रैल तक हिरासत में लिया है और लॉकडाउन के दौरान हुई इस वारदात से पुलिस हैरान परेशान है. आप सभी को बता दें कि नंदनवन के गाड़गे नगर में अपराधी नवीन गोटाफोड़े ने अपराध शाखा के हवलदार अशोक मुले की पत्नी 52 वर्षीय सुशीला की शनिवार की सुबह घर में घुसकर हत्या कर दी थी.

वहीं सुशीला का बेटा गोटाफोड़े के बचपन का मित्र था और गोटाफोड़े के खिलाफ हत्या सहित अन्य भी कुछ मामलों को दायर किया गया है. इसी के साथ पुलिस ने बताया कि उसे तीन माह पहले चोरी के मामले में पकड़ा है और इसके बाद से वह जेल में था. वहीं पुलिस का कहना है कि बीते दिनों 7 साल से कम की सजा पाने वाले मामलों के आरोपियों को जेल से पैरोल अथवा बेल पर छोड़ने का फैसला लिया गया है और इसी कड़ी में चार दिन पहले गोटाफोड़े की रिहाई भी कर दी गई लेकिन क्या पता था कि उसके मन में क्या है...?

वह बीते शुक्रवार को सुशीला के बेटे से मिलने गया और उस दौरान उसके अपराधी होने के कारण सुशीला ने बेटे को उससे भेंट करने से रोका जिससे आरोपी को बुरा लगा. उसके बाद उसने सुशील की हत्या करने का तय किया. वह चाकू लेकर सुबह 10.15 बजे सुशीला के घर पहुंचा उस दौरान घर में सुशीला तथा उनका बेटा नवीन था. उसके बाद उसने चाकू से सुशीला का गला रेत डाला. वहीं मां का शोर सुनकर बेटा नवीन आया और उसने गोटाफोड़े को दबोच लिया. उसके बाद किसी तरह आरोपी वहां से भाग गया और नवीन माँ को पड़ोसियों की मदद से अस्पताल ले गया लेकिन तब तक वह मर चुकी थी.

कोरोना को भगाने के लिए भाजपा पार्टी की जिला अध्यक्ष ने की फायरिंग

कोरोना भगाने के लिए युवक ने की तंत्र पूजा, दी माँ की बलि

तब्लीग़ी जमात के खिलाफ बोलने पर युवक की गोली मारकर हत्या