सुषमा को ट्वीट करना पड़ा महंगा, मिला ऐसा जवाब कि हो गई किरकिरी

नईदिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आमतौर पर माइक्रो ब्लाॅगिंग वेबसाईट पर अपने ट्विटर पर मिलने वाली परेशानियों का समाधान अपने मंत्रालय से जुड़े काम को लेकर करती हैं। मगर एक व्यक्ति ने रेलवे में पदस्थ उसकी पत्नी के ट्रांसफर को लेकर केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्विट किया तो उन्होंने इस व्यक्ति की अपेक्षाओं से अलग हटकर जवाब दिया।

दरअसल यह व्यक्ति पुणे में एक निजी कंपनी में कार्य करता है और इसकी पत्नी झांसी में रेलवे में पदस्थ है। यह व्यक्ति चाहता है कि इसकी पत्नी का स्थानांतरण हो जाए जिससे पति और पत्नी दोंनों साथ में रह पाऐं। इसका कहना था कि यदि पत्नी का ट्रांसफर हो जाए तो फिर दोनों का वनवास समाप्त करने में मदद मिलेगी। मगर इस ट्विट पर सुषमा स्वराज ने ट्विट करने वाले स्मित को ट्विट किया कि यदि तुम या तुम्हारी पत्नी मेरे मंत्रालय में कार्य कर रहे होते तो फिर इस तरह के ट्विट पर ट्रांसफर का आवेदन देने हेतु उसे सस्पेंड कर देती।

केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्विट कर कहा कि रेल मंत्री सुरेश प्रभु को फाॅरवर्ड कर दिया गया है। प्रभु ने ट्विट के उत्तर में लिखा कि इस तरह का मसला उनकी जानकारी में लाने हेतु धन्यवाद। उन्होंने कहा कि अपने मंत्रालय में रेलवे बोर्ड को यह कार्य दिया हुआ है। रेलवे बोर्ड के चेयरमैन से उन्होंने इस तरह के मसले पर नियम के अनुसार कार्य करने को कहा है।

आप नेता देना चाहते हैं केन्द्रीय विदेश मंत्री

केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज अस्पताल में भर्ती

 

 

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -