ममता ने करवाई थी माओवादी नेता की हत्या : बनर्जी

Feb 12 2016 11:52 AM
ममता ने करवाई थी माओवादी नेता की हत्या :  बनर्जी

कोलकाता : पश्चिम बंगाल सरकार पर खून के छींटे उड़ाए गए हैं। हालांकि यह सरकार के लिए एक उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है। जिसमें माओवादी नेता की हत्या की बात कही गई है। दरअसल ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी ने ही इस बात को कहा है कि माओवादी नेता मललोजुला कोटेश्वर राव उर्फ किशनजी की हत्या वर्ष 2011 में ममता ने ही की थी।

हालांकि उन्होंने यह बात बहुत पहले कही थी। राज्य के योजना मंत्री रचपाल सिंह ने एक जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मीडिया में किशनजी की बातें होती थीं। रचपाल की यह रैली बालागढ़ में आयोजित हुई। रचपाल द्वारा कहा गया कि ममता राज्य की मुख्यमंत्री निर्वाचित हुई तो वे जानती थीं कि पुलिस उसे नहीं पकड़ सकेगी।

जिसके बाद उन्होंने ही किशनजी को लेकर सूचनाऐं एकत्रित करने की जिम्मेदारी ली। जिसके बाद वह तीन महिने में मुठभेड़ में मारा गया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंत्री के बयान से तृणमूल की मुश्किलें बढ़ने की संभावनाऐं हो सकती हैं। दरअसल इस तरह की मुठभेड़ को फर्जी भी कहा जा रहा है। 

उल्लेखनीय है कि प्रतिबंधित भाकपा का पोलित ब्यूरो सदस्य किशनजी पश्चिम बंगाल के लालगढ़ क्षेत्र में 2008 से माओवादी अभियान संचालित कर रहा था। वर्ष 2011 के पूर्व दिए गए साक्षात्कार में उसके द्वारा यह कहा गया था कि वह स्वयं भी ममता बनर्जी को ही मुख्यमंत्री के तौर पर पदासीन देखना चाहता है। वर्ष 2011 में किशन जी को संयुक्त बलों ने मुठभेड़ में मार दिया था।

किशनजी के एनकाउंटर को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि हथियार देश की सुरक्षा के लिए उठाना होता है। मगर हिंसा के लिए हथियार उठाने वाले का किशन जी की तरह ही अंजाम होगा। यह हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है कि किशनजी को मारा गया।