फिर मोदी सरकार के सामने खड़ी हुईं ममता, CAA के खिलाफ बंगाल विधानसभा में पेश करेंगी प्रस्ताव

फिर मोदी सरकार के सामने खड़ी हुईं ममता, CAA के खिलाफ बंगाल विधानसभा में पेश करेंगी प्रस्ताव

कोलकाता: नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर देश के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन आज भी जारी है। इन सबके बीच राजस्थान और पंजाब की तर्ज पर ममता बनर्जी आज पश्चिम बंगाल विधानसभा में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रस्ताव पेश करेंगी। प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा है कि आगामी 27 जनवरी को दोपहर दो बजे विधानसभा के विशेष सत्र में यह प्रस्ताव पेश किया जाएगा। बताया जा रहा है कि तृणमूल विधायकों की संख्या ज्यादा होने के कारण यह प्रस्ताव पारित भी हो जाएगा।

ममता बनर्जी के इस प्रस्ताव को वामपंथी दलों के अलावा कांग्रेस का भी समर्थन हासिल है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल सरकार शीर्ष अदालत में इस कानून के खिलाफ अपील भी दाखिल करने की तैयारी में है। इससे पहले केरल और कांग्रेस नेतृत्व वाले पंजाब और राजस्थान के विधानसभा में यह प्रस्ताव पास हो चुका है। इसके अतिरिक्त कांग्रेस की ही सरकार वाले मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी जल्द ही यह कदम उठाए जाने की संभावना जताई जा रही है।

महाराष्ट्र में शिवसेना, राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) व कांग्रेस के गठबंधन वाली महाविकास अघाड़ी सरकार भी जल्द ही विधानसभा में CAA के खिलाफ प्रस्ताव पेश करेगी। कांग्रेस प्रवक्ता राजू वाघमारे ने कहा है कि हमारे गठबंधन के दिग्गज नेता जल्द ही इस मुद्दे पर बैठक आयोजित कर फैसला लेंगे।

नहीं थम रहा कोरोना वायरस का कोहराम, मरने वालों की संख्या 80 के पार

CAA का मामला पहुंचा यूरोपीय संसद में, भारत ने जताई आपत्ति

दिल्ली विधानसभा चुनाव: केजरीवाल के रोड शो को पीछे छोड़ आगे निकली बीजेपी की रैली