लोकसभा चुनाव में ख़राब प्रदर्शन के बाद ममता ने कसी कमर, खुद करेंगी भगवा लहर का सामना

लोकसभा चुनाव में ख़राब प्रदर्शन के बाद ममता ने कसी कमर, खुद करेंगी भगवा लहर का सामना

कोलकाता: 2019 लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में भाजपा के शानदार प्रदर्शन के बाद सूबे की सीएम बनर्जी ने भगवा तूफान का खुद ही सामना करने का निर्णय लिया है। अपनी पार्टी टीएमसी को इस गंभीर संकट से उबारने के लिए ममता बनर्जी कई बड़े फैसले लेने जा रही हैं। साथ ही ममता बनर्जी सियासी और प्रशासनिक स्‍तर पर कई बड़े परिवर्तन करेंगी। इसके लिए ममता ने 31 मई को अंतिम समीक्षा बैठक बुलाई है। 

शनिवार को ममता बनर्जी की बैठक में उपस्थित टीएमसी के नेताओं के अनुसार संगठन को मजबूत करने के लिए ममता कुछ बड़े फैसले कर सकती हैं। ममता आगे बढ़कर भगवा लहर का स्वयं सामना करेंगी। उन्‍होंने पार्टी को और अधिक समय देने का भी फैसला लिया है। उन्‍होंने बताया है कि टीएमसी के दो से तीन नेता ममता के टारगेट पर हैं। 

बैठक के दौरान ममता ने कहा है कि, 'हमने दो-तीन ऐसे टीएमसी नेताओं की पहचान की है जिन्‍होंने भाजपा से पैसा लिया और पार्टी के विरुद्ध काम क‍िया है।' अपने इस बयान के माध्यम से ममता ने यह संकेत दिया है कि भीतरघातियों की खोज जारी है और जल्‍द ही उनके खिलाफ वह कार्यवाही करेंगी। टीएमसी छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले नेताओं का नाम लिए बगैर ममता ने कहा कि, 'अब हमारे सामने दिक्कत है। जब हम भ्रष्‍ट नेताओं के खिलाफ एक्शन लेंगे तो वे दूसरे दलों में जगह बना लेंगे। यह खतरनाक ट्रेंड है।' 

अमेठी: भाजपा कार्यकर्ता की अंतिम यात्रा में शामिल हुईं स्मृति ईरानी, दिया अर्थी को कन्धा

चीन के मालवाहक पोत में हुआ गैस का रिसाव, 10 लोगों की दम घुटने से मौत

ऐतिहासिक जीत पर न्यूज़ीलैंड के पीएम ने पीएम मोदी को दी जीत की बधाई,