जवान बिना खाए 8 दिन लड़ सकते हैं तो लोग क्यों नहीं

नई दिल्ली ​: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार द्वारा 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट बंद किए जाने के निर्णय का विरोध किया था। उन्होंने इस मामले में कहा है कि सरकार ने निर्णय को सही नहीं कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार के इस निर्णय के विरोध में वे आंदोलन करेंगीं। उनके आंदोलन में वे मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के साथ आंदोलन करेंगी।

देशभर में 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट बंद करने से लोगों को उपजी परेशानी को लेकर योगगुरू बाबा रामदेव ने कहा है कि जब जवान बिना खाए पिए 7-8 दिन युद्ध में लड़ सकता है तो फिर देश के लोग क्यों नहीं लड़ सकते हैं। मिली जानकारी के अनुसार कोलकाता में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सीपीएम के माउथपीस में यह दावा किया गया था कि पीएम नरेंद्र मोदी के 8 नवंबर को नोटबंदी की घोषणा करने का मसला उठाने के लिए कहा।

सीपीएम के साथ वैचारिक मतभेद हो सकते हैं मगर देश बचाने के लिए अन्य दलों सपा, कांग्रेस, बसपा आदि के साथ भी हम कार्य करने के लिए तैयार हैं। सीएम ममता बनर्जी ने 16 नवंबर से प्रारंभ हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में विरोधियों को नोटबंदी का मसला उठाने के लिए कहा।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -