मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया चुनाव लड़ने का ये कारण

नई दिल्ली: रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में उम्मीदवार मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में किसी का विरोध करने के लिए नहीं, बल्कि पार्टी को मजबूत करने के लिए मैदान में उतरा हूं। खड़गे ने कहा कि महात्मा गांधी ने इस देश को स्वतंत्रता दिलाई तो लाल बहादुर शास्त्री ने देश को एक रखकर जय जवान जय किसान का नारा देकर मजबूत बनाया। राज्य सुरक्षित रखा। इन दोनों को प्रणाम करके मैं चुनाव प्रचार आरम्भ कर रहा हूं।

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में 30 सितंबर को नामांकन का अंतिम दिन था। इस चुनाव में शशि थरूर एवं मल्लिकार्जुन खड़गे के बीच मुकाबला है। तीसरे उम्मीदवार का नामांकन निरस्त हो गया है। चुनाव में 8 अक्टूबर को पर्चा वापसी की अंतिम दिनांक है। यदि किसी ने नामांकन वापस नहीं लिया तो 17 अक्टूबर को मतदान होगा तथा 19 अक्टूबर को परिणाम आएंगे। 

खड़गे ने कहा कि 'एक व्यक्ति, एक पद' के फॉर्मूला के तहत मैंने राज्यसभा में नेता विपक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया है। आपको मेरे 50 वर्ष के सियासी जीवन के बारे में पता है। मैं अब तक उसूलों एवं आइडियोलॉजी के लिए बचपन से लड़ता रहा हूं। बचपन से ही मेरे जीवन में संघर्ष रहा है। वर्षों तक मंत्री रहा तथा विपक्ष का नेता भी बना। सदन में भाजपा एवं संघ की विचारधारा के खिलाफ लड़ता रहा। मैं फिर लड़ना चाहता हूं तथा लड़कर उसूलों को आगे ले जाने का प्रयास करूंगा। मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पार्टी में काम करना फुल टाइम वर्क है। संसद में जब जाता था तो शाम को ही निकल पाता था। मुझे चुनाव लड़ने का अवसर प्राप्त हुआ है। मेरे वरिष्ठ नेताओं एवं शुभचिंतकों और युवा नेताओं ने कहा है कि देश की ज्वलंत समस्याओं बेरोजगारी, महंगाई से लोग जूझ रहे हैं। अमीर और अमीर हो रहा है। निर्धन और निर्धन हो रहा है। इन सब चीजों को देखते हुए विशेष तौर पर इस 8 वर्ष में जो वादे भाजपा ने किए हैं, वे निभाए नहीं हैं।

नीतीश कुमार को बड़ा झटका, इस बड़े नेता ने दिया पार्टी से इस्तीफा

गांधी जयंती पर प्रशांत किशोर ने किया खास ट्वीट, किया ये बड़ा ऐलान

'शशि थरूर एलीट वर्ग से आते हैं', गहलोत का आया बड़ा बयान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -