मेकअप से भी हो सकता है इन्फेक्शन

मेकअप से भी हो सकता है इन्फेक्शन

जिन लड़कियों को मेकअप करने का बहुत शौक होता है, वे बेझिझक दूसरों का भी मेकअप प्रोडक्ट यूज कर लेती हैं। मेकअप करना बुरा नहीं है मगर किसी दूसरे का यूज किया हुआ मेकअप ब्रश और प्रॉडक्ट यूज करने से स्किन इंफेक्शन हो सकता है। कई मेकअप प्रॉडक्ट आपको तब भी संक्रमण दे सकते हैं, जब उन्हें सालों साल ना बदला गया हो। इनमें मौजूद कैमिकल्स खराब हो जाते हैं, जिस वजह से इनमें बैक्टीरिया का घर बन जाता है, जो कि त्वचा के लिये काफी नुकसानदेह होता है।

इसके अलावा अगर मेकअप ब्रश को भी लंबे समय तक साफ नहीं किया गया तो, वह भी इंफेक्शन पहुंचा सकता है। पर अगर आप दूसरे का संक्रमित मेकअप प्रॉडक्ट यूज करेंगी तो भला आपकी स्किन कैसे बेदाग नजर आ सकती है। अगर आप किसी के साथ मस्कारा शेयर करती हैं तो आपको आई इंफेक्शन हो सकता है। मस्कारा की ट्यूब गीली होती है जिसमें बैक्टीरिया आराम से पनप सकता है। अगर आपकी सहेली को कंजक्टिवाइटिस है तो आपको भी मस्कारा के दृारा यह फैल सकता है।

दूसरों का मेकअप किट यूज़ करने से लकवा भी हो सकता है। यह केवल मेकअप टूल की वजह से ही नहीं बल्कि मेकअप के प्रॉडक्ट्स को लंबे समय तक यूज करने की वजह से भी होता है। एक साल हो जाने के बाद हमेशा अपने मेकअप प्रोक्ट को बदल लेना चाहिये। स्टाइ आंखों की पलको पर होने वाला एक छोटा सा पिंपल है जो कि तेल वाली ग्रंथी को ब्लॉक कर देता है। यह पुराने या संक्रमित मस्कारे या आई शैडो की वजह से होता है। हमेशा आई मेकअप खरीदने से पहले उसकी एक्सपायरी डेट जरुर पढ़ें। अगर आप लंबे समय से पुराना और गंदा मेकअप यूज कर रही हैं तो आपकी स्किन पर लाल रंग के चकत्ते, जलन, घुजली, घाव या दाद आदि हो सकते हैं। हर्पीज़ इन्फेक्शन सबसे खतरनाक होता है इसलिये आपको कभी भी दूसरे का मेकअप प्रोडक्ट नहीं यूज करना चाहिये। अगर आपने अपनी दोस्त से संक्रमित लिपस्टिक, लिपलाइनर या लिपग्लॉस मांग कर यूज किया है तो हर्पीस वाइरस आप तक आराम से पहुंच सकता है।