इस तरह फ्रिज को बनाएं हेल्दी

Apr 18 2015 10:43 PM
इस तरह फ्रिज को बनाएं हेल्दी
अब दुनिया में मानो किसी बात की चिंता ही नहीं बची हो जैसे, हर फील्ड में आपको काम करने में सहूलियत मिलती है. बात चाहे घर की क्यों नहीं हो. बता दे घर में फ्रिज एक ऐसा माध्यम है जिसकी मदद से आप पुरानी चीजो को ताजा कर सकते है. फ्रिज में तो बहुत सारी हेल्दी चीजें हैं लेकिन जब उन्हें खाने की बारी आती है तो उस समय हाथ लगती है केवल अनहेल्दी चीजें. 

ऐसे में हेल्दी मैनेजमेंट की जरूरत है ताकि हेल्दी चीजें ज्यादा से ज्यादा खाने में आए. इससे आप अपने वजन कम करने के लक्ष्य को अधिक आसानी से पा सकेंगे. जब फ्रिज में सारी चीजें एक साथ मिल जाती हैं तो सेहतमंद चीजों तक हमारी पहुंच और मुश्किल हो जाती है.

यदि फ्रिज में खाने-पीने की चीजें इस प्रकार व्यवस्थित रखी हों जो आसानी से नजर आ जाए तो आप हेल्दी खाने के लिए अधिक प्रेरित होंगे. इससे डब्बे में रखी चीजें जैसे दही या अंडे आप आसानी से ब्रेकफास्ट में ले सकेंगे. 

स्नैक्स के लिए बनाएं सेंटर - 

फ्रिज में अलग से एक स्नैक सेंटर बनाएं. जिससे मील्स के बीच में यदि कुछ खाने की इच्छा हो तो आपकी पहुंच में स्नैक्स भी हेल्दी ही आएं. हमेशा हेल्दी स्नैक्स को आंखों के लेवल पर रखें, जैसे पॉपकॉर्न, चीज़, ताजे फल, फ्रूट और नट बार. 

काटकर भी रखें - 

सब्जियां हेल्दी होती हैं, कैलोरी में कम और फाइबर से भरपूर. इसलिए जब भी बाजार से सब्जियां खरीदकर लाएं जैसे गाजर, खीरा, चेरी टमैटो को रियूजेबल कंटेनर में रखें. इन्हें आप लो फैट सलाद ड्रेंसिग के पास रखें ताकि आसानी से सब्जियों का स्वाद बढ़ाकर उन्हें खा सकें. 

फ्रूट बाउल - 

जिन्हें अक्सर मीठा खाने की इच्छा होती रहती है उनके लिए फ्रूट्स हेल्दी विकल्प है. साथ ही ये चॉकलेट बार या कुकीज की तुलना में कैलोरी के मामले में काफी कम भी होते हैं. स्वाद और सेहत से भरपूर फ्रूट्स जैसे सेब, नाशपाती, खरबूजे, तरबूजे को बाउल में काटकर सामने रखें ताकि फ्रिज का दरवाजा खुलते ही सबसे पहले बाउल पर नजर पड़े. 

रखें अल्टरनेटिव्स भी - 

यदि आपको पता है कि आइसक्रीम आपकी कमजोरी है तो अपने आपको को उससे पूरी तरह से दूर नहीं रखें. इससे खाने की इच्छा और भी बढ़ जाती है. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि लो कैलोरी ऑप्शन ही इसके लिए हो. इसी तरह हाई फैट या हाई कैलोरी फूड के साथ भी कर सकते हैं. हमेशा हेल्दी स्टॉक ही रखें ताकि अधिक कैलोरी खाने में ना आए.
?