रूद्र हुआ तूफ़ान तितली, सैकड़ों पेड़ और खंभे उखड़े, 8 की मौत

Oct 11 2018 03:47 PM
रूद्र हुआ तूफ़ान तितली, सैकड़ों पेड़ और खंभे उखड़े, 8 की मौत

भुवनेश्वर. बंगाल की खाड़ी से उत्पन्न हुआ चक्रवाती तूफान ‘तितली’ आज सुबह ओड़िसा के तट से टकराने के बाद से विराट रूप लेता जा रहा है. इस भयानक तूफ़ान की वजह से ओड़िसा और आंध्रप्रदेश के अधिकतर इलाकों में भारी बारिश के साथ-साथ अत्यंत तेज हवाएं भी चल रही है. 

भारत में कहर मचा रहे तूफ़ान को पाकिस्तान ने क्यों दिया नाम 'तितली' ?

आज सुबह तक़रीबन 5.50 बजे ओड़िसा के गोपालपुर जिले में तट से टकराने के बाद से तितली तूफ़ान लगातार तबाही मचता ही जा रहा है. इस तूफ़ान की वजह से आंध्रप्रदेश और ओड़िसा में अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा ही इन राज्यों के कई इलाकों में सैकड़ों पेड़ और बिजली के खंभे भी उखड़ गए है. इस तूफ़ान की चेतावनी मिलने के बाद से ही राज्य के कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति भी रोक दी गई थी ताकि बिजली के तार टूटने पर किसी भी इलाके में करंट न फैले.

ओडिशा और आंध्र की ओर बढ़ा चक्रवाती तितली तूफ़ान, स्कूल कॉलेज बंद

तितली तूफ़ान की वजह से ओडिसा के कुछ इलाकों में  26 सेमी. तक की भारी बारिश दर्ज की गई जिससे कई जगहों पर बाढ़ के हालत भी बन गए है और बड़े पैमाने पर सड़क संपर्क भी अवरुद्ध हुआ है. इस तूफ़ान की वजह से अब तक आठ लोगों की मौत होने के साथ-साथ दर्जनों लोगों के घायल होने की भी खबर है. हालाँकि प्रशासन ने इस तूफ़ान के तट से टकराने से पहले ही प्रभावित इलाकों से लोगों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों तक पंहुचा दिया था जिस वजह से लाखों लोगों की जान बच गई .


ख़बरें और भी 

भारत में कहर मचा रहे तूफ़ान को पाकिस्तान ने क्यों दिया नाम 'तितली' ?

भारी बारिश और तेज हवाओं के साथ ओडिशा पहुंचा तूफ़ान 'तितली', 3 लाख लोगों को हटाया गया

मौसम विभाग की चेतावनी, श्रीकाकुलम में भारी तबाही मचा सकता है 'तितली'

?