'धोनी है तो मुमकिन है..', माही ने फिर दिखा दिया, उन्हें क्यों कहा जाता है 'बेस्ट फिनिशर'

नई दिल्ली: महेंद्र सिंह धोनी की आन-बान-शान किसी पहचान की मोहताज नहीं है। एक बार फिर धोनी ने बता दिया है कि क्यों आखिरकार उनकी गिनती दुनिया के बेस्ट फिनिशर में होती है। आईपीएल का एल क्लासिको गुरुवार रात खेला गया। आमने-सामने थी चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस। इस दौरान मैच में रोहित की पलटन का पूरी तरह दबदबा था। लेकिन इन सबसे परे, कई उतार-चढ़ाव के बाद सीएसके को आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रन चाहिए थे।

 

लक्ष्य मुश्किल जरूर था, लेकिन धोनी की डिक्शनरी में असंभव कुछ भी नहीं है। बस फिर क्या था, माही ने धुआँधार चौका मारकर अपनी टीम को तीन विकेट से शानदार जीत दिला दी। आखिरी गेंदों पर धोनी ने 16 रन बनाए। इस जीत के झंडे देश के अपने माइक्रो-ब्लॉगिंग मंच, कू ऐप पर भी फहराए जा रहे हैं। फैंस माही की इस जीत को देश की जीत मानकर काफी खुश हैं। इसी बीच समान टीम में मौजूद भारतीय क्रिकेटर रोबिन उथप्पा ने भी अपने कू हैंडल से बड़ी ही दिलचस्प पोस्ट शेयर की है, जिसके माध्यम से वे कहते हैं: 'मेरे लिए एक खास...200वीं मीठी जीत के साथ! सॉलिड @chennaiipl! MSD को स्टाइल में इसे खत्म करते हुए देखकर कभी नहीं थक सकते #Yellove #WhistlePodu'

बता दें कि मुंबई को जीत के लिए 17 गेंदों पर 41 रन का बचाव करना था। मिस्‍टर फिनिशर के नाम से मशहूर माही ने इसे एक बार फिर सच करते हुए अपनी टीम को सीज़न की दूसरी जीत दिलाई। इसके साथ ही मुंबई को लगातार 7वीं हार झेलनी पड़ी। आईपीएल इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसी फ्रेंचाइज़ी को लगातार सात मैचों में शिकस्‍त का सामना करना पड़ा हो। चेन्‍नई की तरफ से धोनी ने 13 गेंदों पर नाबाद 28 रन बना दिए। अंबाती रायडू ने सर्वाधिक 35 गेंदों पर 40 रन बनाए। इसके अलावा रॉबिन उथप्‍पा ने 25 गेंदों पर 30 रन का योगदान दिया।

इससे पहले मुंबई की तरफ से तिलक वर्मा ने 43 गेंदों पर 51 रन की नाबाद पारी खेली थी, जिसके दम पर मुंबई की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 155 रन बनाए। मुंबई ने 23 रन पर ही तीन विकेट गँवा दिए थे। ऐसा लग रहा था कि रोहित शर्मा की टीम 100 रन भी नहीं बना पाएगी, लेकिन पहले सूर्यकुमार यादव ने 21 गेंदों पर 32 रन का योगदान दिया। फिर रितिक शौकीन ने 25 गेंदों पर 25 रन की पारी खेली। अंत में जयदेव उनादकट ने भी नौ गेंदों पर नाबाद 19 रन ठोक दिए, जिसके चलते मुंबई की टीम एक सम्मानजनक स्कोर बनाने में सफल रही। पहले ही ओवर में रोहित शर्मा और ईशान किशन आउट हो गए। युवा गेंदबाज मुकेश चौधरी ने दोनों को आउट किया। इसके बाद तीसरे ओवर में वे देवाल्ड ब्रेविस विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी के हाथों लपेट लिए गए।

आखिर क्यों Mike Tyson ने फ्लाइट में की सहयात्री की पिटाई, वीडियो से खुलेगा राज

जूनियर स्पीड चेस में निहाल सरीन क्वार्टर फाइनल में बनाया स्थान

पुराने फॉर्म में लौटे धोनी, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ 'सर रविंद्र जडेजा' का रिएक्शन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -