फिर स्कूली पाठ्यक्रम से हटाए गए गांधी जी...

त्रिपुरा : राजस्थान के स्कूल पाठ्यक्रम से गांधी-नेहरु को हटाए जाने के बाद अब त्रिपुरा में भी स्कूली पाठ्यक्रमों से गांधी-नेहरु को हटा दिया गया है। त्रिपुरा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन की 9वीं कक्षा की हिस्ट्री की किताब से महात्मा गांधी पर दिए गए चैप्टर को हटा दिया गया है।

कहा जा रहा है कि वाम दल की सरकार वाले राज्य में कार्ल मार्क्स की इमेज को चमकाने के लिए ऐसा किया गया है। त्रिपुरा सोसायटी हिस्ट्री मेंबर संतोष साहा ने बताया कि इस किताब में हिटलर, कार्ल मार्क्स, सोवियत क्रांति, फ्रेंच रिवॉल्यूशन और क्रिकेट के जैसे पाठ्यक्रम है।

लेकिन इसमें भारत भारत की स्वतंत्रता आंदोलन और उसमें महात्मा गांधी की भूमिका को शामिल नहीं किया गया है। त्रिपुरा बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के प्रेसीडेंट मिहिर देब का कहना है कि एनसीईआरटी द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर ही नया सिलेबस तैयार किया गया है।

देब ने कहा कि न तो हमने कुछ हटाया है और न ही हमने कुछ जोड़ा है। यदि किताब में कुछ गलत है, तो हम उस पर कार्रवाई करेंगे। इतिहासकार सुभाशीष चौधरी ने बताया कि इस साल के पाठ्यक्रम में रानी लक्ष्मीबाई और सुभाष चंद्र बोस से जुड़े एक भी चैप्टर नहीं है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -