मलेशिया में महातिर बने दुनिया में सबसे ज्यादा उम्र में प्रधानमंत्री

कुआलालंपुर : मलेशिया में 92 साल के महातिर मोहम्मद ने देश की 222 संसदीय सीटों में से 113 पर जीत दर्ज कर दुनिया में सबसे ज्यादा उम्र में प्रधानमंत्री निर्वाचित होने का तमगा भी अपने नाम कर लिया. पूर्व तानाशाह महातिर मोहम्मद  22 सालों तक मलेशिया में तानाशाह रहे और साल 2003 में उनकी सत्ता खत्म हुई थी. महातिर ने जीत के लिए जरुरी112 सीटों के आंकड़े को पार करते हुए 113 सीट पर जीत हासिल की. जीत के बाद महातिर ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि वह गुरुवार को प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं.

बैरिसन नैशनल पार्टी 1957 में मलेशिया को ब्रिटेन से आजादी मिलने के बाद से ही सत्ता में है, एक समय था जब महातिर नजीब रज्जाक के गुरु हुआ करते थे. बीते 3 सालों से नजीब रज्जाक की लोकप्रियता में काफी कम होती जा रही थी. इसी का फायदा उठाते हुए महातिर ने चुनाव में मौजूदा प्रधानमंत्री नजीब रजाक के खिलाफ जमकर अभियान चलाया था और उसी का नतीजा है कि पार्टी को इतनी बड़ी जीत हासिल हुई है.92 साल के महातिर ने बारिसन नैशनल (बीएन) गठबंधन को चुनावों में करारी शिकस्त दी है.

चुनाव में घोटाले के आरोपों से घिरे प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक और महातिर के बीच पहले ही कड़ा मुकाबला बताया जा रहा था. महातिर ने व्यापक वित्तीय घोटाले से मलेशिया की अंतरराष्ट्रीय छवि को नुकसान पहुंचने को मुद्दा बनाया और विरोधी दलों को एकजुट किया. महातिर ने जेल में बंद विपक्ष के नेता अनवर इब्राहीम से भी हाथ मिलाया. 

पकिस्तान की हरकतों से अमेरिकी की जाँच एजेंसी परेशान

सऊदीअरब ने मिसाइल हमले के लिए ईरान को ठहराया जिम्मेदार

ईरान यूरेनियम संवर्धन शुरू करेगा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -