महाशिवरात्रि पर भोलेनाथ को भूलकर भी न चढ़ाएं यह चीज़ वरना...

कहते हैं हिंदू धर्म के सभी देवी देवताओं में भगवान शिव एक ऐसे देवता हैं, जो बहुत जल्दी से खुश हो जाते हैं और जो जो मांगता है वह उसे दे देते हैं. ऐसे में शिव भगवान अपने भक्तों पर बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और जो वो मांगते हैं वह दे देते हैं. ऐसे में भगवान शिव का दिन महाशिवरात्रि माना जाता है जो जल्द ही आने वाली है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं वो काम जो आपको महाशिवरात्रि के दिन नहीं करना चाहिए. जी हाँ, कहते हैं शिव आरधना के दौरान कुछ ऐसी चीज़ें भी होती है जिन्हे शिव भगवान को अर्पित करने से वह नाराज हो जाते हैं और श्राप दे देते हैं. आइए जानते हैं आज उन चीज़ों के बारे में.

आप सभी जानते ही होंगे कि भोलेनाथ को भांग,धतूरे का चढ़ावा बहुत ही प्रिय होता हैं लेकिन शिवपुराण के अनुसार ​भोलेनाथ के भक्तों को कभी भी शिव की आराधना में तुलसी, हल्दी और सिंदूर सहित ये वस्तुएं कभी भी चढ़ानी चाहिए. जी हाँ, कहते हैं इससे भगवान बहुत क्रोधित हो जाते हैं. आप सभी को बता दें कि सिंदूर, हिंदू धर्म में विवाहित स्त्रियों का गहना माना जाता हैं और सिंदूर या फिर कुमकुम महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए लगाती हैं. कहा जाता है भगवान ​भोलेनाथ विध्वंसक के रूप में जाने जाते हैं इस कारण शिवलिंग पर कभी भी कुमकुम नहीं चढ़ाना चाहिए क्योंकि इससे केवल नुकसान हो सकता है.

इसी के साथ शिव जी के अतिरिक्त लगभग सभी देवी देवताओं के पूजा अर्चना में हल्दी गंध और औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता हैं लेकिन शिवलिंग पर हल्दी कभी नहीं चढ़ानी चाहिए क्योंकि यह घातक सिद्ध हो सकती है. इसी के साथ शिवलिंग पर कभी भी तुलसी की पत्तियों को नहीं चढ़ाना चाहिए क्योंकि यह भी सही नहीं होता है. इसी के साथ शिव की पूजा के लिए तुलसी के पत्ते का प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि यह विनाश का कारण बनता है.

महाशिवरात्रि पर अपनी मनोकामना के अनुसार चढ़ाए शिवलिंग पर फूल, हो जाएगी पूरी

अगर महाशिवरात्रि पर करने जा रहे हैं शिवलिंग की स्थापना तो जरूर पढ़े यह खबर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -