उमेश कोल्हे की तरह ही 3 और हत्या की थी साजिश.., 2 ने तो माफ़ी भी मांग ली

मुंबई: अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे के क़त्ल के मामले में गिरफ्तार किए गए उनके पुराने दोस्त युसूफ और अन्य आरोपितों से पूछताछ में कई बड़े राज़ खुले हैं। पहले पता चला था कि इसी युसूफ ने उमेश द्वारा फॉर्वर्ड मैसेज अपने कट्टरपंथियों के सोशल मीडिया ग्रुप में भेजा और फिर इरफान शेख ने उनकी हत्या की साजिश रची। हालाँकि, अब खबर है कि उमेश की तरह ही कम से कम तीन अन्य लोगों ने भी नुपूर शर्मा के समर्थन वाले पोस्ट को सोशल मीडिया पर साझा किया था, जिन्हें बाद में हत्या की धमकी मिली थी और उनमें से दो को वीडियो जारी कर माफी भी माँगनी पड़ी थी।

 

इनमें एक डॉक्टर गोपाल राठी का नाम भी शामिल है। राठी ने अपने वीडियो में कहा था कि, 'मैंने नूपुर शर्मा के संबंध में स्टेटस लगाया था। इसके पीछे किसी धर्म या जाति या किसी भी व्यक्ति का दिल दुखाने का मेरा कोई उद्देश्य नहीं था। मगर, फिर भी किसी का दिल दुखा हो तो मैं अपने दिल से उनसे माफ़ी माँगता हूँ। साथ ही वादा करता हूँ कि आगे ऐसी कोई गलती नहीं होगी।' सोशल मीडिया पर आई तस्वीरों में साफ़ देखा जा सकता है कि गोपाल राठी को डॉ जीशान का संदेश मिला था। जीशान ने उन्हें धमकी दी थी कि उनकी तरफ से डॉ गोपाल राठी को 
जो मरीज रेफर किए जाते हैं, वो अब करना बंद कर दिए जाएंगे। अब पुलिस ने इस संबंध में धमकी पाने वाले लोगों से शिकायत लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है। कोल्हे के परिवार वालों का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि कोल्हे को एक ऐसे संदेश के लिए धमकियाँ मिल रही हैं, जिसे युसूफ द्वारा कट्टरपंथियों के ग्रुप में डाला गया था। 

उमेश कोल्हे मामले में क्या हुआ ?

उमेश कोल्हे हत्या मामले में अब तक 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें एक कोल्हे का पुराना दोस्त डॉ युसूफ है और दूसरा मुख्य साजिशकर्ता इरफान है। इरफान से पूछचाछ में ये बात पता चली है कि वो एक रहबरिया नाम से एक NGO चलाता था, जिसे पाकिस्तान और अरब देशों से पैसा मिलता था। हत्या के आरोपित इसी NGO के साथ काम कर रहे थे। मास्टरमाइंड इरफान ने भी ये आरोप लगाया है कि उसने पहले मौलाना मुदस्सिर अहमद से उमेश की रेकी करवाई। इसके बाद वेल्डिंग करने वाले शेख इरफान ने मजदूरों को प्लॉन में शामिल करके, उन्हें पैसे देकर हत्या को अंजाम तक पहुँचाया। बता दें कि शेख इरफान पर दूसरे धर्म की लड़की को अपने साथ भगाने का इल्जाम है। उसके घर के आसपास वाले लोग बताते हैं कि वो बेहद मजहबी किस्म का था और कोल्हे की पोस्ट मिलने के बाद उसने ही हत्या की पूरी साजिश रची थी। पुलिस ने मामले से संबंधित सबूत जुटाने के बाद 7 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेजा है। वहीं बाकी आरोपित 4 जुलाई तक हिरासत में हैं।

Video: कुत्ते के भौंकने से नाराज हुआ पड़ोसी, पूरे परिवार पर किया डंडे से हमला

यूपी: मदरसे में ले जाकर हिन्दू युवती को बनाया मुस्लिम, फिर जबरन निकाह...

क्लासरूम के पीछे ले जाकर मोहम्मद ज़ाकिर ने 7वीं की छात्रा के साथ किया कुकर्म, हुआ गिरफ्तार

 

 

Most Popular

- Sponsored Advert -