महाराष्ट्र में फिर बना लॉकडाउन का मज़ाक, सड़कों पर उतरे हज़ारों मजदूर

मुंबई: कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के बीच महाराष्ट्र के चंद्रपुर में करीब 1000 से ज्यादा प्रवासी मजदूर शनिवार को सड़कों पर उतर आए और उन्होंने मांग करते हुए कहा कि उन्हें उनके घर वापस भेजने की व्यवस्था की जाए। इनमें से अधिकतर  भारत के उत्तरी हिस्सों के रहने वाले हैं।

पुलिस के एक अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि यह घटना जिले के बल्लारपुर में सुबह लगभग साढ़े नौ बजे हुई। उन्होंने बताया, '1,000 से ज्यादा प्रवासी श्रमिक, जिनमें से अधिकतर सरकारी मेडिकल कॉलेज के एक निर्माण स्थल में रह रहे थे, सड़कों पर उतर आए और मांग की कि उनके गृह राज्यों में उनकी वापसी के लिए इंतज़ाम किए जाएं। उन्होंने राजमार्ग को अवरूद्ध करने का प्रयास किया और रेलवे स्टेशन की तरफ जाने लगे।'

अधिकारी ने आगे कहा कि, 'श्रमिक उत्तर प्रदेश और बिहार में अपने-अपने घर वापस जाना चाहते थे। इनमें से कुछ पश्चिम बंगाल से थे।' उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि उनके आमदनी के स्रोत बंद हो गए हैं। इसकी सूचना मिलने पर, रामनगर पुलिस थाने के जवान मौके पर पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में लाया गया।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का बड़ा बयान, वैक्‍सीन आने तक करना होगा यह काम

271 ब्रिटिश नागरिक लौटे स्वदेश, यहां से विमान ने भरी उड़ान

Lockdown :ट्रेन से जा रहे मजदूरों को नहीं खरीदना होगा टिकट, राज्य सरकार से पैसे वसूलेगा रेलवे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -