न सोना-चांदी और न रुपया-पैसा.., केवल जजों के कपड़े चुराता है ये सिरफिरा चोर

कोल्हापुर: महाराष्ट्र के कोल्हापुर में एक ऐसा चोर रहता है, जो सोना-चांदी और नोटों पर नहीं बल्कि न्यायाधीशों के कपड़ों पर हाथ साफ़ करता है. उसकी इस अनोखी चोरी से पूरा कोल्हापुर हैरान था. यह सोच-सोच कर परेशान था कि चोर आखिर क्या चाहता है? आखिर कपड़े और वो भी न्यायाधीशों के ही कपड़े क्यों चुराता है ? अगर चोर एकाध बार यह हरकत करता, तो बात समझ में भी आती. लेकिन चोर बार-बार जजों के कपड़े चुरा रहा था. जजों ने परेशान होकर पूरा प्रशासन, पुलिस को इस काम में लगाया. आखिर में जजों के कर्मचारियों ने ही इस अनोखे चोर को पकड़ा. बाद में चोर को पुलिस के हवाले कर दिया गया. पुलिस ने इस चोर को अदालत में पेश किया. अदालत ने इस सरफिरे चोर को तीन दिन की हिरासत में भेज दिया.

कोल्हापुर जिले के अंतर्गत आने वाले भुदगढ़ तालुका के गारगोटी में ज्युडिशियल मजिस्ट्रेड का कोर्ट है. अदालत के ही परिसर में न्यायाधीशों के निवास की सुविधाएं हैं. इन क्वार्टरों में वे अपने परिवारों संग रहते हैं. ऐसे में इनके और इनके परिवार के सदस्यों के कपड़े धुलाई होने के बाद परिसर में सूखने के लिए डाले जाते हैं. मगर बीते कुछ दिनों से हो यह रहा था कि धूप में सूखने के लिए डाले गए कपड़े अचानक गायब हो जाते थे. कपड़ों की यह चोरी लगातार हो रही थी. आखिर में हार कर जजों ने चोर को दबोचने के लिए जाल बिछाया. सारी तिकड़में लगाई और पूरा महकमा चोर को पकड़ने में लग गया.

जस्टिस के आदेश पर उनके कर्मचारी चोर को दबोचने का महाचक्रव्यूह तैयार करने में लग गए. सिरफिरा चोर अपनी मस्ती में अगली बार की चोरी की प्लानिंग कर रहा था. उसे इसकी कोई खबर नहीं थी कि उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया जा चुका है. इसके बाद एक बार फिर वो हर बार की तरह परिसर में कपड़े चुराने के लिए पहुंचा. लेकिन यहां घात लगाए कर्मचारियों ने फौरन उसे पकड़ लिया. इसके बाद चोर को पुलिस के पास ले जाया गया. पुलिस भी फौरन हरकत में आई और  मामला दर्ज कर चोर को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उसे तीन दिनों की हिरासत में भेज दिया. लेकिन सवाल अब भी वही है, कि वो कपड़े ही क्यों चुराता था?

खंडवा में लव जिहाद, विशाल बनकर अरबाज़ ने की दरिंदगी की हदें पार

बंगाल में नहीं थम रही सियासी हिंसा, अब TMC नेता असीम रॉय को मारी गोली

ओडिशा में चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में कॉलेज प्राचार्य, पुलिस अधिकारी निलंबित

Most Popular

- Sponsored Advert -