उद्धव सरकार ने पालघर SP को अनिवार्य अवकाश पर भेजा, एडिशनल एसपी को मिली जिम्मेदारी

मुंबई: महाराष्ट्र के पालघर मॉब लिंचिंग मामले पर मचे हंगामे के बाद पालघर के पुलिस अधीक्षक (SP) गौरव सिंह को अनिवार्य अवकाश पर भेजने का निर्णय लिया गया है. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने गुरुवार को बताया कि राज्य की उद्धव सरकार ने पालघर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) गौरव सिंह को अनिवार्य अवकाश पर भेजने का फैसला किया है. 

उल्लेखनीय है कि गत माह लॉकडाउन के दौरान पालघर जिले के एक गांव में भीड़ ने दो साधुओं समेत तीन लोगों की पीट-पीट की निर्मम हत्या कर दी थी.  देशमुख गुरुवार को दिन में उसी गडचिंचले गांव में पहुंचे थे, जहां 16 अप्रैल की रात लिंचिंग की यह वारदात हुई थी. उन्होंने स्थानीय जनप्रतिनिधियों से बातचीत की थी. मंत्री ने कहा था कि यह घटना इंसानियत पर कलंक है. देशमुख ने एक वीडियो संदेश में कहा था कि,  'मैंने वहां जनप्रतिनिधियों, MLA, सांसद, ग्राम पंचायत के सदस्यों और अन्य लोगों से मुलाकात की. उसके बाद राज्य सरकार ने पालघर के SP गौरव सिंह को अनिवार्य अवकाश पर भेजने का निर्णय किया.'

देशमुख ने कहा कि SP का प्रभार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को सौंपा जाएगा. इस मामले की जांच महाराष्ट्र पुलिस का अपराध जांच विभाग (CID) कर रहा है और उसने 115 लोगों को अरेस्ट किया है. 

इस बड़ी कंपनी ने Reliance Jio में लगाए करोड़ों रुपए, एक हफ्ते में तीसरा बड़ा निवेश

पाकिस्तान में पेट्रोलियम पदार्थों के दाम घटे, वहीं भारत में इससे सरकारी खजाने भरने की कवायद

GSK ने हिन्दुस्तान यूनिलीवर की अपनी हिस्सेदारी बेची, 25480 करोड़ रुपये में हुई डील

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -