उज्जैन: इस दिन से गर्भगृह में प्रवेश कर सकेंगे दर्शनार्थी

उज्जैन: कोरोना महामारी के चलते बीते 21 महीनों से शिव भक्त शिवलिंग को स्पर्श कर पूजा अर्चना नहीं कर पा रहे थे। लेकिन अब हाल ही में मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर प्रबंध समिति ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है। आने वाले 6 दिसंबर से मंदिर के गर्भ गृह में प्रवेश शुरू हो जाएगा। जी हाँ, नयी गाइडलाइन के मुताबिक 6 दिसंबर से महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह में आम श्रद्धालुओं का प्रवेश हो सकेगा। हालांकि यह प्रवेश सप्ताह में 3 दिन तक नहीं होगा।

आपको बता दें कि उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में मार्च 2020 के पहले श्रद्धालुओं को गर्भगृह में प्रवेश कर शिवलिंग पर दूध, जल आदि चढ़ाने की अनुमति थी। कोरोना के चलते पिछले 21 महीनों से गर्भगृह में प्रवेश बंद कर दिया गया था। ऐसे में अब तक आम श्रद्धालुओं के साथ साथ वीआईपी भी गर्भगृह में प्रवेश नहीं कर पा रहे थे। अब तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित कई वीआईपी नंदीहाल से ही दर्शन कर लौट चुके हैं। ऐसे में अब आने वाले 6 दिसंबर से ऐसा नहीं होगा।

अब मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना के प्रतिबंधों को हटा दिया गया है। यहाँ सबसे पहले भस्म आरती में आम श्रद्धालुओं की संख्या को बढ़ाया गया और इसके बाद अब 6 दिसंबर से महाकालेश्वर मंदिर के गर्भगृह में भी आम श्रद्धालुओं को प्रवेश मिलेगा। हाल ही में उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा कि, 'अब पहले की तरह शनिवार, रविवार और सोमवार को गर्भगृह में श्रद्धालुओं का प्रवेश निषेध रहेगा। इसके अलावा आम दिनों में सामान्य दर्शनार्थी पूर्व की तरह गर्भगृह में प्रवेश कर पूजा अर्चना कर सकेंगे।'

'हमारे जवानों को कोई हल्के में नहीं ले', BSF स्थापना दिवस कार्यक्रम में बोले अमित शाह

भारत में अचानक बढ़े कोरोना से मौत के मामले, बढ़ी मुश्किलें

JIPMER ने इन पदों के लिए निकाली भर्ती, जानिए आवेदन की प्रक्रिया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -