माघ पूर्णिमा के दिन जरूर ध्यान रखे यह 5 बातें

आप सभी को बता दें कि हर साल आने वाली माघ पूर्णिमा इस साल 19 फरवरी को मनाई जाने वाली है. ऐसे में इस दिन गंगा स्नान या अन्य पवित्र नदियों के जल में स्नान को उत्तम कहा गया है और इस दिन क्या करना चाहिए ताकि पाप कर्मों का नाश किया जा सके और पुण्य की प्राप्त हो सके वह आज हम आपको बताने जा रहे हैं. आइए जानते हैं.

- कहते हैं वैसे तो हर दिन सूर्योदय से पहले उठ जाना चाहिए, लेकिन माघ पूर्णिमा के दिन इस बात का पूरा ध्यान रखें कि सूरज के उगने से पहले ही उठ जाए और अब इसके बाद घर की साफ-सफाई कर स्नान करें और सूर्य भगवान को अर्घ्य दें तो आपको हर नुकसान से राहत मिल जाएगी.

- कहा जाता है सूर्य भगवान को अर्घ्य देने के बाद धूप-दीप अर्पित कर भगवान का वंदन करना चाहिए और इस दिन भगवान को पीले रंग की ही पोशाक अर्पित करनी चाहिए. इसी के साथ आप माघ पूर्णिमा के दिन भगवान को पीला कलावा भी चढ़ा सकते हैं.

- माघ पूर्णिमा के दिन पितृों की आत्मा की शांति और आशीर्वाद के लिए काले तिल से हवन करना चाहिए और इसके बाद ब्राह्मणों को भोजन कराकर दक्षिणा देनी चाहिए. इसी के साथ इस दिन जरूरतमंद लोगों को अन्न और वस्त्रों का दान देना चाहिए और दान में विशेष रूप से काले तिल भी दिए जाने चाहिए.

- कहते हैं इस दिन ब्रह्ममुहूर्त में पवित्र नदी के जल में स्नान करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से कई रोगों से मुक्ति मिल जाती है और इस दिन काले तिल और काले कंबल का दान करना लाभदायक होता है.

- कहते हैं इस दिन सूर्यदेव को जल अर्पित करने के बाद भगवान विष्णु के व्रत का संकल्प लेना चाहिए. वहीं पूजन के दौरान पीले वस्त्र पर श्रीहरि की प्रतिमा स्थापित करें और फिर पीले फूलों से ही विष्णुजी का श्रृंगार करें क्योंकि ऐसा करने से बहुत लाभ हो सकता है.

19 फरवरी को है माघ मास की पूर्णिमा, जरूर करें इन चीज़ों का दान

अचला सप्तमी पर की जाती है इनकी पूजा, जरूर रखे व्रत

अपने शरीर के इस अंग पर लगा लें परफ्यूम, बन जाएंगे करोड़ो की सम्पत्ति के मालिक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -