30 जनवरी को है प्रदोष व्रत और मासिक शिवरात्रि, यहाँ जानिए शुभ मुहूर्त

भगवान शिव को समर्पित प्रदोष व्रत और मासिक शिवरात्रि को लेकर इस बार बहुत अच्छा योग है। जी दरअसल ये दोनों ही इस बार 30 जनवरी 2022 दिन रविवार को है। ऐसे में इस दिन प्रदोष काल में भगवान शिव की पूजा करने के बाद रात्रि में मासिक शिवरात्रि की पूजा होगी। ज्योतिषों के अनुसार इस दिन आधी रात को सर्वार्थ सिद्धि योग में भगवान शिव की पूजा होगी और सर्वार्थ सिद्धि योग में शिव जी के दो व्रतों का संयोग भक्तों को कई गुना अधिक पुण्य फल प्रदान करेगा। अब हम आपको बताने जा रहे हैं पूजा के मुहूर्त।

प्रदोष व्रत एवं मासिक शिवरात्रि की तिथि- माघ माह के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि 29 जनवरी को रात 8 बजकर 37 मिनट पर  शुरु हो रही है, इसका समापन 30 जनवरी को शाम 5 बजकर 26 मिनट पर हो रहा है। वहीं उदयातिथि में प्रदोष व्रत 30 जनवरी दिन रविवार को रखा जाएगा। इसी के साथ रविवार को त्रयोदशी तिथि की वजह से इसे रवि प्रदोष व्रत कहा जाता है। आपको बता दें कि रविवार को ही शाम 5 बजकर 27 मिनट पर  चतुर्दशी तिथि शुरू हो रही है, ​जो अगले दिन 31जनवरी को दोपहर  2 बजकर 14 मिनट तक रहेगी। ऐसे में शिवरात्रि की पूजा का मुहूर्त रात्रि प्रहर का होता है, इसी के साथ माघ की मासिक शिवरात्रि भी 30 जनवरी को है।

प्रदोष व्रत 2022 पूजा मुहूर्त- 30 जनवरी, शाम 6 बजे से रात 8:05 बजे तक।
मासिक शिवरात्रि 2022 पूजा मुहूर्त-  30 जनवरी, रात 11:20 बजे से देर रात 1:18 बजे तक।

जब माता पार्वती ने भगवान शिव से पूछा- 'क्या गंगा में नहाने से धुलते हैं पाप?' जानिए जवाब

जब शिव जी ने माता पार्वती को बताया था श्री राम के जन्म का कारण

आखिर क्यों आरती के बाद बोलते हैं कर्पूरगौरं करुणावतारं, जानिए रहस्य

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -