मध्य प्रदेश चुनाव 2018 : क्या फिर आएगा 'शिव' का राज या अब कांग्रेस संभालेगी कामकाज

मध्य प्रदेश चुनाव 2018 : क्या फिर आएगा 'शिव' का राज या अब कांग्रेस संभालेगी कामकाज

भोपाल. देश के पांच राज्यों में जल्द ही विधानसभा चुनाव शुरू होने वाले है. इन राज्यों में से एक राज्य मध्यप्रदेश भी है जहाँ आगामी चुनाव 28 नवम्बर से शुरू होंगे. इस चुनाव के मद्देनजर राज्य की तमाम राजनैतिक पार्टियों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है. उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में पिछले 15 सालों से बीजेपी सरकार ही राज कर रही है और इस बार भी अपनी सरकार बनाने के लिए विश्वस्त है. हालाँकि इस बार बीजेपी के लिए जीत हासिल करना इतना आसान नहीं होगा.

कांग्रेस के इस गढ़ को भेद पाना बीजेपी के लिए साबित होगी टेढ़ी खीर

दरअसल बीजेपी जनता में अपने सीएम उम्मीदवार और मौजा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की लोकप्रियता और जनसमर्थन को देखते हुए इस बात से पूरी तरह आश्वस्त है कि इस बार भी राज्य में बीजेपी की ही सरकार बनेगी. लेकिन इस बार राज्य में कई ऐसे मुद्दे भी है जो बीजेपी की राह में बड़ी काटा बन सकते है. एक प्राइवेट अंग्रेजी चैनल की हालिया रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य की अधिकतर  जनता भले ही सीएम पद के लिए शिवराज सिंह को ही पसंद कर रही है लेकिन इस बार प्रदेश में कई इलाकों में जनता का पार्टी विधायकों के प्रति काफी आक्रोश है जो बीजेपी के खेमे के वोट कम कर सकता है. 

छत्तीसगढ़ चुनाव: मायावती ने बीजेपी पर साधा निशाना, कांग्रेस को भी लिया आड़े हाथ

इसी तरह इस बार राज्य में स्वर्ण समुदाय (जनरल केटेगरी) भी SC / ST एक्ट और SC / ST आरक्षण को लेकर सरकार से नाराज है. इसके साथ ही राज्य के कुछ दलित समुदाय भी सरकार द्वारा अतिरिक्त आरक्षण न दिए जाने को लेकर सरकार के प्रति आक्रोशित है. यह सब मुद्दे मिल कर प्रदेश में पिछले 15 सालो से सत्तारूढ़ भाजपा पार्टी की राह में बाधा बन सकते है. 

ख़बरें और भी 

नवजोत सिंह सिद्धू के पाक प्यार पर बीजेपी का पलटवार, कहा माफ़ी मांगे सरदार

सुर्खियां: ये है देश और दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी ख़बरें

मध्य प्रदेश : अपने दो दिवसीय दौरे पर प्रदेश आएंगे अमित शाह