मध्य प्रदेश में बरस रही आग, इंसानों के साथ ही पशु-पक्षियों की जान पर बनी

Jun 11 2019 11:54 AM
मध्य प्रदेश में बरस रही आग, इंसानों के साथ ही पशु-पक्षियों की जान पर बनी

भोपाल: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के अन्य हिस्सों में गर्मी और लू के कारण जनजीवन तो बुरी तरह प्रभावित है ही, पशु-पक्षियों की जिंदगी भी खतरे में पड़ गई है. बीते कई दिनों से गर्म हवाओं और पानी की कमी के वजह से बंदरों व चमगादड़ों की मौत की खबरें सामने आई हैं. राज्य के बड़े हिस्से में गर्मी इन दिनों चरम पर पहुँच गई है, तापमान भी 48 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है.

दिन में सूरज आग बरसाने लगा है. गर्मी के बढ़े प्रभाव के चलते शिक्षा विभाग ने सरकारी व प्राइवेट स्कूलों की छुट्टी 23 जून तक बढ़ा दी है. पहले छुट्टी 17 जून तक थी. देवास जिले के पुंजापुरा क्षेत्र के जोशी बाबा के जंगल में शनिवार को 15 बंदरों की लाशें बरामद हुई थी. पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सक का कहना है कि बंदरों की मौत की वजह प्रथम दृष्टया गर्मी और हीट स्ट्रोक है. 

देवास के वन अधिकारी पी.एन. मिश्रा ने प्रेस वालों से कहा है कि बंदर प्यास से मरे. बंदरों के एक समूह को दूसरे समूह ने पानी स्थल तक जाने नहीं दिया, जिस वजह से यह हादसा हुआ. जहां बंदर मृत मिले, उससे कुछ दूरी पर ही पानी की व्यवस्था है. अब उस जगह पर पानी का इंतजाम किया गया है, जहां बंदरों की लाश मिले थे. बंदरों की गतिविधियों पर नाइट विजन कैमरों के माध्यम से नजर रखी जा रही है.

जी-7 समिट में विशेष अतिथि के तौर पर शामिल होंगे पीएम मोदी

देर रात अचानक फिर बिगड़ी मुलायम सिंह यादव की तबियत, मेदांता में भर्ती

'हावड़ा में एक और भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, पार्टी का दावा - जय श्री राम कहने पर मार डाला