दिल्ली से बेरंग लौटे शिवराज, नहीं हो पाया विभागों का बंटवारा, हमलावर हुआ विपक्ष

भोपाल: मध्य प्रदेश में कैबिनेट विस्तार के बाद भी विभागों के विभाजन को लेकर सियासी खींचतान जारी है. इसी बीच, सीएम शिवराज सिंह चौहान भोपाल पहुंच गए हैं. उन्होंने आज मंत्रियों को विभागों का विभाजन करने से इंकार कर दिया है. शिवराज ने कहा कि विभाग बंटवारे को लेकर वह अभी और वक़्त लेंगे. इस बीच कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना साधा है.

कांग्रेस के दिग्गज नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि राज्य में भाजपा तीन धड़ों में बंट गई है. 1. महाराज, 2. नाराज और 3. शिवराज'. उल्लेखनीय है कि शिवराज सरकार गठन के 100 दिन बाद 2 जुलाई को मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ था. उसी दिन से माना जा रहा था कि शाम या फिर अगले दिन मंत्रियों को विभाग सौंप दिए जाएंगे, किन्तु 5 दिन बीत जाने के बाद भी शिवराज के मंत्रियों को विभाग नहीं दिए गए हैं, जिसको लेकर विपक्ष आक्रामक हो गया है. 

वहीं कमलनाथ सरकार में सहकारिता और सामान्य प्रशासन मंत्री रहे डॉक्टर गोविंद सिंह ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया था कि सीएम शिवराज पर ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों को मलाईदार विभाग देने का प्रेशर है. सिंधिया इसी तरह दबाव की सियासत करते हैं और इसीलिए सीएम शिवराज सिंह चौहान को बार-बार दिल्ली का चक्कर काटना पड़ रहा है. इसके साथ ही डॉक्टर गोविंद सिंह ने सीएम शिवराज को हिदायत दी है कि वो सिंधिया समर्थक मंत्रियों को राजस्व विभाग ना दें. 

ब्रिटेन को भी 'धोखा' दे रहा चीन, अब UK ने कड़े शब्दों में दी चेतावनी

शिवराज सरकार ने उड़ाई संविधान की धज्जियां, मंत्रिमंडल विस्तार पर भड़की कांग्रेस

जनता से तो झूठ बोलती ही थी भाजपा, अब पेड़ों से भी बोलने लगी - अखिलेश यादव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -