मध्य प्रदेश: मिलावटखोरी के आरोप में एक कारोबारी गिरफ्तार, रासुका के तहत होगी कार्रवाई

Aug 03 2019 12:17 PM
मध्य प्रदेश: मिलावटखोरी के आरोप में एक कारोबारी गिरफ्तार, रासुका के तहत होगी कार्रवाई

ग्वालियर: मध्य प्रदेश सरकार इन दिनों दुग्ध उत्पादों और अन्य खाद्य पदार्थों में होने वाली मिलावट को लेकर काफी सख्त दिखाई दे रही है. जिसके कारण राज्य के विभिन्न स्थानों पर दुग्ध और खाद्य पदार्थों में मिलावट करने को लेकर प्रशासन कई आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर चुका है. इसी कड़ी में मिलावटी दूध का धंधा करने वाले उम्मेद सिंह रावत पर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने 3 महीने के लिए रासुका लगाने का फरमान किया है.

उम्मेद सिंह को मोहना में डेयरी चलाते हैं यहां 24 और 25 जुलाई को खाद्य अधिकारियों ने जांच की थी. तब डेरी पर मिलावटी दूध के अलावा रसायन भी बरामद हुए थे. जिसके बाद दूध को नष्ट कर दिया गया था, जबकि दूध में मिलाया जाने वाला रसायन अभी भी जब्ती में हैं. जिले में मिलावटखोरी के मामले में 10 वर्ष बाद यह पहली कार्रवाई है.

आपको बता दें कि इससे पहले वर्ष 2009 में तत्कालीन कलेक्टर आकाश त्रिपाठी ने 8 लोगों के खिलाफ एक्शन लिया था. मोहना के दीक्षित कॉलोनी के रहने वाले उमेद सिंह पर लगातार नकली रसायन युक्त मिलावटी दूध का व्यवसाय करने के आरोप हैं. उम्मेद सिंह अपने इस व्यवसाय का संस्थान और स्थान बदलकर पर काम कर रहा था. रासुका की कार्रवाई होते ही पुलिस ने कार्यवाही करते हुए आरोपी उम्मेद सिंह को गिरफ्तार कर लिया है.

चलते ट्रेन में पर्स छीनकर भाग रहा था लूटेरा, अपनी बेटी के साथ पीछा करने लगी महिला और फिर...

जबरदस्ती संबंध बनाना चाहता था पति, पत्नी ने किया मना, तो दे दिया तीन तलाक़

संसद ने एयर इंडिया से संबंधित एक संशोधित विधेयक को किया पारित