MP: अगर कोई 1000 रुपये तक रिश्वत लेता है तो कोई बुराई नहीं है: बसपा विधायक

भोपाल: रोजगार के संकट और महंगाई की चुनौती के बीच आम जनता इस समय भ्रष्टाचार से परेशान है. हालाँकि इन परेशानियों को अनदेखा कर मध्य प्रदेश की बहुजन समाज पार्टी (BSP) की विधायक राम बाई सिंह ने एक विवादित ब्यान दे डाला है. उनका कहना है कि आटे में नमक बराबर रिश्वत चल सकती है, अगर कोई 1000 रुपये तक रिश्वत लेता है तो कोई बुराई नहीं है लेकिन इससे ज्यादा ठीक नहीं है. आप सभी को बता दें कि बीते दिन ही मध्य प्रदेश के जिले दमोह में बसपा की चर्चित विधायक राम बाई सिंह के पास सतऊआ गांव के कुछ लोग अधिकारियों की शिकायत लेकर पहुंचे थे.

इस मामले में आरोप था कि पीएम आवास के नाम पर सहायक, सचिव हज़ारों रुपये वसूल रहे थे. यह जानने के बाद विधायक ने गांव में पहुंचकर जन चौपाल लगाई, जिसमें गांव वालों ने अधिकारियों के सामने ही उनकी शिकायत की. जी दरअसल गांव वालों ने आरोप लगाया था कि अधिकारियों द्वारा 5 से 10 हज़ार रुपये तक रिश्वत ली जाती है. यह जानने के बाद विधायक राम बाई ने कहा कि ''थोड़ा-बहुत तो चलता है, लेकिन किसी गरीब से हज़ारों रुपये नहीं लेने चाहिए. अगर एक हज़ार रुपये भी लेते हैं, तो कोई दिक्कत नहीं थी लेकिन सवा लाख के घर में 5-10 हजार की रिश्वत लेना गलत है.''

वहीं आगे विधायक ने रोजगार सहायक से कहा कि 'यदि तुम्हारी बात की जाए तो तुम्हारे घर में 1 लाख रुपए का बाथरूम बना होगा और यहां गरीब सवा लाख में अपना पूरा घर बना रहे हैं. इसके बाद भी यदि आप उनसे 5 से 10 हजार लेंगे तो शर्म आनी चाहिए. कुछ गलती ग्रामीणों की भी होती है.' आप सभी जानते ही होंगे कि मध्य प्रदेश के दमोह जिले के पथरिया से विधायक राम बाई अक्सर अपने बयानों के कारण चर्चा में रहती हैं. बात करें उनके पति के बारे में तो वह बीते दिनों फरार भी चल रहे थे, जिन पर हत्या का आरोप लगा था.

रिलीज हुआ विक्की कौशल की नई मूवी का टीजर, इस 'स्वतंत्रता सेनानी' के किरदार में आएँगे नज़र

नीरज चोपड़ा का 'देसी डांस' वीडियो हुआ वायरल, दिलेर मेहंदी के गाने पर जमकर किया भांगड़ा

पर्यटन क्षेत्र के पुनरुद्धार के लिए टीकाकरण सर्वोपरि: केंद्रीय मंत्री

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -