धार्मिक तीर्थयात्रा को लेकर मंत्री का कड़वा बयान, कहा-यात्रा कराना सरकार का काम नहीं है...

धार्मिक तीर्थयात्रा को लेकर मंत्री का कड़वा बयान, कहा-यात्रा कराना सरकार का काम नहीं है...

कांग्रेस पार्टी शासित राज्य मध्यप्रदेश के मंत्री और कांग्रेस नेता गोविंद सिंह ने कहा कि 'मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना' को खत्म कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यह धार्मिक यात्राएं कराना सरकार का काम नहीं है. सिंह ने एएनआई से कहा, 'धार्मिक तीर्थयात्राओं का संचालन करना सरकार का काम नहीं है, हालांकि सरकार द्वारा इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है, लेकिन यह मेरी निजी राय है.श्रद्धालुओं को सुविधाएं देना, उनकी मदद करना ठीक है लेकिन सरकारी धन के लिए तीर्थयात्राओं का आयोजन मेरे अनुसार सही नहीं है. तीर्थयात्रा का संचालन लोगों द्वारा अर्जित धन पर किया जाना चाहिए.'

पकिस्तान का बड़ा खुलासा, FATF की बैठक के बाद आतंकी हाफिज सईद होगा रिहा

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मध्य प्रदेश सरकार द्वारा वैष्णो देवी, काशी, द्वारका और रामेश्वरम में 15 फरवरी को प्रस्तावित धार्मिक यात्रा के कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य के कम से कम 4000 वृद्धों के लिए पाँच राज्य प्रायोजित तीर्थयात्रा को रद्द कर दिया था. इसके बाद यह मामला सुर्खियों में आया था. हालांकि, सिंह ने आगे कहा कि जो धनराशि बचती है, उसका बेहतर उपयोग शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा और अन्य क्षेत्रों में राज्य के सभी लोगों की बेहतरी के लिए किया जा सकता है.

कोरोना वायरस से चीन में हाहाकार, मरने वालों की संख्या 1600 के पार

इसके अलावा दूसरी ओर, भाजपा नेता और विधायक विश्वास सारंग ने कांग्रेस नेता के बयानों पर कड़ी आपत्ति जताई और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ से इस मुद्दे पर पार्टी और सरकार के रुख को स्पष्ट करने का आग्रह किया. सारंग ने एएनआई से बातचीत में कहा, 'यह एक बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बयान है, एक तरफ, कांग्रेस सरकार IFFA अवार्ड्स के आयोजन के बारे में लंबे दावे कर रही है और उनके मंत्री का कहना है कि तीर्थयात्राओं को रोक दिया जाना चाहिए. भाजपा सरकार ने गरीब लोगों को तीर्थ स्थलों की यात्रा के लिए सक्षम बनाने के लिए इस योजना को शुरू किया था. सबसे बुरी बात यह है कि उन्होंने लोगों की भावनाओं का मजाक बनाया है.'उन्होंने कहा, 'सीएम कमलनाथ को आगे आना चाहिए और स्पष्ट करना चाहिए कि यह मंत्री की निजी राय है या सरकार और कांग्रेस पार्टी का बयान है.

अनुसूचित जाति को साधने में जुटी ममता बनर्जी, बुजुर्गों को देगी 1000 रुपए प्रति माह पेंशन

भारत दौरे को लेकर बेहद उत्साहित हैं ट्रम्प, कहा- ये मेरे लिए सम्मान की बात

शिवसेना ने सामना में लिखा, भारत दौरे से पहले ट्रंप ने दिया ये बड़ा झटका