संकट में कमलनाथ सरकार, नदी की धारा मोड़कर लंबा रास्ता बनाने का आरोप

भोपाल: आप सभी जानते है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है. वहीं, लगातार भाजपा के चक्रव्यूह से घिरी कमलनाथ सरकार अब आक्रमण और मनुहार के साथ अपना संकट दूर करने में सक्रिय हो चुकी है. सरकार ने डैमेज कंट्रोल के लिए जहां अपना प्रबंधन तेज कर दिया, वहीं विरोधियों को घेरने के लिए नौकरशाही को आगे किया है. बीते शनिवार को सुबह सरकार ने उमरिया जिले में विजयराघवगढ़ के विधायक व पूर्व मंत्री संजय पाठक के बांधवगढ़ स्थित सायना इंटरनेशनल रिसॉर्ट पर बुल्डोजर चलाया. वहीं, कई दिनों से सरकार के खिलाफ सनसनी फैला रहे विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा वापस लौट आए और कमलनाथ को अपना समर्थन देने की घोषणा कर दिया. पुलिस और प्रशासनिक अमले के साथ मौके पर पहुंचे उमरिया कलेक्टर की अगुवाई में रिसॉर्ट का अवैध निर्माण ढहा दिया गया. जबकि पांच एकड़ में पर्यटकों के लिए बनाए गए हट व जंगल की भूमि पर बोई गई फसल भी नष्ट करा दी. प्रशासन ने वाइल्ड फ्लावर रिसॉर्ट की भी आधा एकड़ जमीन पर किया गया अतिक्रमण हटाया और बांधवगढ़ के अन्य सात रिसोर्ट को भी नोटिस जारी किए हैं.

दरअसल विधायक संजय पाठक ने इसे राजनीति से प्रेरित दुर्भावनापूर्ण कार्रवाई करार दिया है, जबकि प्रशासन ने अन्य रिसोर्ट पर हुई कार्रवाई का हवाला देकर इसे रुटीन अभियान बताया है. बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बने कई रिसोर्ट की जांच का काम बीते महीने से चल रहा है. यहां के 11 रिसोर्ट में अतिक्रमण पाया गया है. अतिक्रमण हटाने के लिए 12 फरवरी को आदेश जारी किया गया था. जिला प्रशासन पहले ही रिसोर्ट की नपती कर चुका है. खसरा नंबर 260 और 321 की कुल 41 एकड़ जमीन संजय पाठक की फर्म 'निर्मल छाया" के नाम से दर्ज थी, जबकि शेष पांच एकड़ जमीन पर अतिक्रमण पाया गया था.

नदी की धार की दिशा मोड़कर रास्ता बनाने का आरोप

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व क्षेत्र में विधायक संजय पाठक के साइना इंटरनेशनल रिसोर्ट के लिए चरण गंगा नदी की धार मोड़कर लंबा रास्ता बनाने का आरोप है. जिस पांच एकड़ जमीन पर खेती की जा रही थी, वह रिसॉर्ट से लगी हुई थी. यहीं पर कब्जा करके पर्यटकों को ठहराने के लिए हट बनाए गए थे. इस पर साइना रिसोर्ट में सबसे अधिक 2.001 हेक्टेयर भूमि पर अतिक्रमण किया गया था. इसी कारण से यहां सबसे पहले कार्रवाई शुरू की गई है. क्षेत्र के सभी रिसोर्ट पर बारी-बारी से कार्रवाई की जाएगी और सारे अतिक्रमण हटाए जाएंगे. 

94 देशों में कोरोना का फैला खौफ, मिस्र के क्रूज पर फंसे भारतीय

HP Budget 2020: कर्मियों-पेंशनरों से अधिक विकास पर होगी नजर

तीन साल बाद शिमला में मार्च में हुई बर्फबारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -