सगाई के बाद भी गर्लफ्रेंड से बात करता था बेटा तो पिता ने कर डाली हत्या, रस्सी से खुला राज

बुरहानपुर: मप्र के बुरहानपुर में एक पिता ने ही अपने बेटे का क़त्ल कर दिया। तत्पश्चात, उन्होंने अपनी पत्नी एवं बेटी के साथ मिलकर बेटे के शव को ठिकाने भी लगा दिया। पुलिस ने 15 दिन पश्चात् घटना का खुलासा किया है। पुलिस ने एक रस्सी के सहारे इस मामले को सुलझा लिया।

बुरहानपुर SP राहुल कुमार लोढ़ा ने कहा कि मामला निबोला थाना क्षेत्र के धुलकोट गांव का है। 5 जनवरी को रूपरेल नदी में रामकृष्ण नाम के शख्स का शव मिला था। शव के हाथ पैर रस्सी से बंधे हुए थे। तहकीकात में सामने आया कि मृतक का अपने परिवार से विवाद रहता था। तहकीकात आगे बढ़ाने पर मृतक के घर पर भी वही रस्सी मिली, जो शव के हाथ-पैर में बंधी थी। इस आधार पर रामकृषण के पिता, मां तथा बहन से पूछताछ की गई। उन्होंने जुर्म कबूलते हुए क़त्ल की बात स्वीकार कर ली।

वही रामकृष्ण के मां, पिता तथा बहन ने बताया कि उसकी सगाई हो गई थी। इसके बाद वह दिनभर किसी दूसरी लड़की से बात करता था। 2 जनवरी की रात लगभग 10 बजे घर पर रामकृष्ण कॉल पर युवती से बात रहा था। इस बात से उसके पिता भिमान सिंह खफा हो गए तथा रामकृष्ण पर चिल्लाए। दोनों के बीच झगड़ा हुआ। उन्होंने रामकृष्ण को चांटे मारे तथा धक्का दे दिया था। धक्का देने से रामकृष्ण बाथरूम की दीवार से टकराकर जमीन पर गिर गया। तत्पश्चात, पिता ने रामकृष्ण की छाती पर जोर से लात मार दी। जब रामकृष्ण के शरीर में कोई हलचल नहीं हुई तो पिता ने घबराकर रस्सी से उसके हाथ-पैर बांध दिए। तत्पश्चात, पिता, मां जमनाबाई एवं बहन कृष्णा बाई ने मिलकर शव को रूपरेल नदी मे फेंक दिया। अपराधियों से पूछताछ के पश्चात् उन्हें पुलिस ने अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें जेल भेज दिया।

महाराष्‍ट्र में अभी नहीं खुलेंगे स्‍कूल-कॉलेज, इस तारीख तक रहेंगे बंद

क्रिप्टोकरेंसी अपडेट : बिटकॉइन,एथेरियम के दाम गिर गए

पुलिस अधिकारी के खिलाफ दर्ज हुआ कत्ल का केस, जानिए क्या है मामला

Most Popular

- Sponsored Advert -