मध्यप्रदेश चुनाव: चुनावी माह में रिकार्ड तोड़ बिक रही शराब, हर दिन औसतन 64 हजार लीटर खपत बढ़ी

मध्यप्रदेश चुनाव: चुनावी माह में रिकार्ड तोड़ बिक रही शराब, हर दिन औसतन 64 हजार लीटर खपत बढ़ी

भोपाल: प्रदेश में चुनाव के नजदीक आते ही नशे का कारोबार ज्यादा ही फलने लगता है और इस चुनाव में भी कुछ ऐसा ही दिखाई दे रहा है। जानकारी के अनुसार बता दें कि मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में 28 नवंबर को मतदान होना है। वहीं जैसे जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है प्रदेश में शराब की खपत भी बढ़ गई है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल की तुलना में इस साल नवंबर में शराब की बिक्री बढ़ गई है। 

राजस्थान चुनाव 2018: रितेश शर्मा कांग्रेस में शामिल, वसुंधरा के ससुराल धौलपुर में भाजपा हुई अचंभित

वहीं बता दें कि शराब की बिक्री के रिकॉर्ड पर चुनाव आयोग की भी नजर है। इस साल चुनावी महीने नवंबर में हर दिन औसतन 64 हजार लीटर शराब की खपत बढ़ी है। वहीं पिछले साल नवंबर 2017 में शराब की खपत 74.73 लाख लीटर थी। इसके अलावा सरकारी आंकड़ें बताते हैं कि नवंबर का महीना खत्म भी नहीं है और अब तक 77.51 लाख लीटर शराब बिक चुकी है। 

छत्तीसगढ़ चुनाव: चरणदास महंत का दावा, भाजपा से नाराज़ हैं राज्य के लोग पूर्ण बहुमत के साथ आएगी कांग्रेस

गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने शराब की अवैध आपूर्ति की रोकथाम के लिए पूरे राज्य में 14 जगह नाके बनाए हैं। यहां बता दें कि चुनाव की घोषणा के बाद से आदर्श चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के तहत अब तक कुल 51.29 करोड़ रुपये से अधिक की अवैध नगदी और सामग्री जब्त की गई है। साथ ही चुनाव आयोग ने अब तक 4 लाख लीटर से ज्यादा अवैध शराब जब्त हुई है। इसके अलावा शराब की बिक्री बढ़ी है तो जाहिर है कोई ना कोई खरीद ही रहा होगा। 


खबरें और भी 

मध्यप्रदेश चुनाव: मायावती ने किया खुलासा, क्यों नहीं किया कांग्रेस से गठबंधन

सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज की ईवीएम की जगह बैलट पेपर से चुनाव करने की मांग करने वाली याचिका

राजस्थान चुनाव: राजपूत समुदाय को कम टिकट देना कांग्रेस को पड़ सकता है महंगा