67 साल बाद मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, पहली बार जीती 'रणजी ट्रॉफी'

भोपाल: मध्य प्रदेश एवं मुंबई (Madhya Pradesh and Mumbai) के बीच एम चिन्नास्वामी स्टेडियम (M Chinnaswami Stadium) में मध्य प्रदेश की टीम ने रणजी ट्राफी के टेस्ट मैच का फाइनल 6 विकेट रहते अपने नाम कर लिया है। आज दोनों टीमों के बीच 5 वें दिन का खेल हो रहा था। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई की टीम ने अपनी प्रथम पारी में मध्य प्रदेश के सामने 374 रनों का लक्ष्य रखा था। 

वही इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी मध्य प्रदेश की टीम ने उनकी पहली पारी में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। मध्य प्रदेश की टीम ने पहली पारी में 536 रन बोर्ड पर लगाकर मुंबई को 162 रनों की लीड दे डाली। तत्पश्चात, मुंबई की टीम दूसरी पारी में 269 रन पर ऑल आउट हो गई। जिसके बाद मध्य प्रदेश की टीम को जीत के लिए 108 रन बनाने थे।

इस लक्ष्य को मध्य प्रदेश की टीम ने सरलता से हासिल कर लिया। रजत पाटीदार और शुभम शर्मा ने अपनी टीम को फाइनल जीताने के अंजाम तक पहुंचाया। हांलाकि शुभम शर्मा जीत के नजदीक जाने से पहले 30 रनों के नीजी स्कोर पर हार गए। किन्तु रजद पाटीदार अंत तक क्रीज पर उपस्थित रहे। इस मैच को जीतने के बाद मध्य प्रदेश के खिलाड़ियों के अतिरिक्त प्रशंसकों ने भी जमकर जश्न मनाया।

फीडे कैंडीडेट्स शतरंज में नेपोमिन्सी की एक और जीत बरक़रार

डब्ल्यूआरसी सफारी रैली से बाहर हुए गौरव गिल

बजरंग का बड़ा बयान, कहा- "एशियाई खेल और विश्व चैम्पियनशिप में एक माह..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -