मोटर व्हीकल एक्ट पर बोले कमलनाथ, कहा- जुर्माने की राशि पर पुनर्विचार करे केंद्र सरकार

मोटर व्हीकल एक्ट पर बोले कमलनाथ, कहा- जुर्माने की राशि पर पुनर्विचार करे केंद्र सरकार

भोपाल: पूरे देश में आया नया मोटर मोटर व्हीकल एक्ट सुर्ख़ियों में बना हुआ है। मंदी के दौर में लोगों की जेब पर भारी पड़ने वाले इस एक्ट ने जनता का जीना मुहाल कर रखा है। सोशल मीडिया पर भी इस एक्ट को लेकर काफी मीम्स बन रहे हैं। इसी एक्ट के बारे में बात करते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि केंद्र सरकार को जुर्माने के बारे में एक बार फिर से विचार करना चाहिए ताकि मंदी के दौर में लोगों की जेब पर भारी बोझ न पड़े। 

कमलनाथ ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट करते हुए लिखा कि 'सड़क हादसों को रोकना और लोगों की जान की हिफ़ाजत हम भी चाहते है पर यह भी देखना चाहिये कि जुर्माना अव्यवाहरिक ना हो,लोगों की क्षमता के अनुरूप हो,भारी मंदी का दौर चल ही रहा है। केंद्र सरकार जुर्माने की राशि पर पुनर्विचार करे और लोगों को राहत प्रदान करे। हम भी इसका अध्ययन करवा रहे है।'

वहीं राज्य सरकार के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने केंद्र सरकार के फैसले को तुगलकी फरमान करार देते हुए कहा है कि इस एक्ट में लगने वाले अधिकतर जुर्माने की रकम आम आदमी की आदमनी के बराबर है। ऐसे में मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ से बात करूंगा कि कैसे इस बोझ को कम किया जा सकता है। 

स्मृति ईरानी के अमेठी दौरे का आज अंतिम दिन, लाखों की योजनाओं का किया शुभारंभ

सोनिया गाँधी के नेतृत्व में फिर सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस, सरकार के खिलाफ करेगी प्रदर्शन

रॉबर्ट वाड्रा की विदेश जाने की मांग वाली याचिका पर फैसला सुरक्षित, कल फैसला सुनाएगी कोर्ट