सदन में नहीं दी गई शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि, भाजपा ने कांग्रेस को जमकर घेरा

सदन में नहीं दी गई शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि, भाजपा ने कांग्रेस को जमकर घेरा

नई दिल्ली: दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का शनिवार को दोपहर 3:55 पर देहांत हुआ था, जिसके बाद रविवार को निगमबोध घाट पर का अंतिम संस्कार किया गया. शीला दीक्षित के अंतिम संस्कार के दौरान यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गंधी समेत कई बड़े दिग्गज उपस्थित रहे. उनके देहांत के बाद देश के हर कोने में शोक जताया गया, किन्तु इस बीच मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित न करने को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया है.

दरअसल, रविवार को मध्य प्रदेश विधानसभा में पूर्व सीएम शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित नहीं की गई, जिस पर भाजपा ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि सदन में शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि इसलिए नहीं दी गई, क्योंकि वह गांधी परिवार से संबंध नहीं रखती थीं. इस बात को लेकर भाजपा ने जमकर हंगामा किया और सदन से वॉकआउट भी कर दिया. 

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा में यह सब तब हुआ जब भाजपा ने सदन में शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए सदन को 5 मिनट के लिए स्थगित किए जाने की मांग की. इस पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देने की मांग पहले कार्य सूची में लाई जाए, इसके बाद ही सदन स्थगित किया जाएगा और यह कहकर स्पीकर ने भाजपा की मांग ख़ारिज कर दी. जिसके बाद भाजपा ने जमकर हंगामा किया.

राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी से मिले नितीश कुमार, सियासी हलकों में हलचल तेज़

कर्नाटक में कांग्रेस बना सकती है अपना मुख्यमंत्री

प्रियंका वाड्रा के मुरीद हुए शत्रुघ्न सिन्हा, कहा- उन्हें देखकर इंदिरा जी की याद आ गई