क़र्ज़ से परेशान 60 वर्षीय महिला ने की ख़ुदकुशी, बैंक पर लगे प्रताड़ित करने के आरोप

भोपाल: मध्य प्रदेश के छतरपुर में मजदूर पति के कर्ज से तंग आकर 60 वर्षीय महिला ने जहरीला पदार्थ खाकर ख़ुदकुशी कर ली. मृतक के बेटे ने बैंक वालों पर प्रताड़ित करने के आरोप लगाते हुए कहा कि बैंक की ओर से लगातार पैसे की मांग की जा रही थी और लॉकडाउन होने के कारण मजदूरी का काम नहीं मिल रहा था. इसके चलते उनके पिता पैसे चुकाने में समर्थ नहीं थे. इसी तनाव और दबाव के चलते मां ने जहरीला पदार्थ खाकर ख़ुदकुशी कर ली.

ये घटना जिले के अलीपुरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले बड़ागांव की है. जहां की 60 वर्षीय महिला जानकी कुशवाहा अपने पति हरदयाल कुशवाहा के बैंक कर्ज के चलते तनाव में थी. बैंक के दबाव से तंग आकर 16 सितंबर को जानकी ने जहरीला पदार्थ खा लिया. इसके बाद जानकी को आनन-फानन में अस्पताल में एडमिट कराया गया. जहां गुरूवार को मिशन हॉस्पिटल में उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई.

मृतक महिला के पुत्र का कहना है कि बैंक ऑफ बड़ौदा से 80 हजार और सहकारिता बैंक से 25 हजार का लोन था जिसको लेकर निरंतर बैंक से पैसे चुकाने के लिए उनके पास फोन आ रहा था. उनके पास कर्ज का भुगतान करने के लिए पैसे नहीं थे जिससे मानसिक रूप से तंग आकर मेरी मां ने जहरीला पदार्थ खा लिया.  एडिशनल एसपी समीर सौरभ ने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है, अगर बैंक दोषी पाई जाती है तो कार्रवाई की जाएगी।  

अब जरुरी होगा बिजली का स्मार्ट मीटर लगवाना, लागु होंगे नए नियम

सोने चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, जानिए क्यों आई इतनी बड़ी कमी

कोरोना के बाद भी S&P ने नहीं घटाई देश की रेटिंग, कही ये बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -