शहर की पावन धरा पर होगा माँ नर्मदा पुराण का आयोजन

इंदौर/ब्यूरो। शहर की पावन धरा पर पहली बार माँ नर्मदा पुराण का आयोजन किया जा रहा है, आपको बता दे की काशी के प्रसिद्ध कथा वाचक हेमेन्द्रानन्द जी सरस्वती दण्डी स्वामी द्वारा इंदौर में पहली बार माँ नर्मदा पुराण का भव्य आयोजन होगा बताया जा रहा है की प्रथम माँ नर्मदा महापुराण अमृत कथा का  आयोजन शिव शक्ति नगर मनकामनेश्वर शिव मंदिर, आस्था अनूप टॉकीज के पीछे 16 अगस्त से 20 अगस्त तक दोपहर 2 से शाम 5 बजे के बिच होगा, जिसमे हजारों की संख्या में भक्त जन उपस्तिथ होंगे। 

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार माँ नर्मदा का उल्लेख स्कन्द पुराण के रेवा खंड में किया गया है।  जिसमे बताया गया है की माँ नर्मदा की उत्पत्ति भगवान शिव के अमर कंठ से हुई है।  कथाओं में उल्लेख है की माँ नर्मदा 16 साल की बालिका के रूप में अवतरित हुई थी।  भगवान शिव के कंठ से उतपन्न  होने के कारण माँ नर्मदा को अमर होने का वरदान प्राप्त है। माँ नर्मदा की उत्पत्ति से लेकर आज तक उल्लेखित सभी कथाओ का वर्णन इस आयोजन में किया जायेगा जिसका पूरा लाभ भक्तो को मिलेगा। 

प्रथम माँ नर्मदा महापुराण अमृत कथा के आयोजन के निमित कलश यात्रा का आयोजन भी किया जायेगा, जिसमे ओम्कारेश्वर से माँ नर्मदा का जल लेकर इंदौर लाया जायेगा और विधि विधान से कलश यात्रा निकालने के बाद पूजा अर्चना की जाएगी, बताया जा रहा है की लगभग 51 कलश में नर्मदा का जल लेकर यात्रा निकाली जाएगी और विधि विधान पूर्वक माँ नर्मदा पुराण का आयोजन आरम्भ होगा।

देश का एकलौता इंकलाब मंदिर, जहां हर दिन लगते हैं 'भारत माता की जय' के नारे

आजादी के '75 साल और 75 कमाल', जानिए कैसे खेल में महाशक्ति बना भारत?

भारत को जिस कंपनी ने बनाया था 'गुलाम', आज एक भारतीय ही है उसका मालिक

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -