तूतीकोरिन में प्रदर्शन कर रहे स्टालिन गिरफ्तार

चेन्नई: तमिलनाडु के तूतीकोरिन में मंगलवार को हुए हिंसक प्रदर्शन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है. जबकि 70 से ज्यादा लोग घायल हैं. गंभीर हालात को देखते हुए शहर में जगह-जगह सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है. इसी बीच धरने पर बैठे हुए डीएमके नेते एम् के स्टालिन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. हिंसा में शामिल होने के आरोप में अब तक 67 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. वहीं शहर में अगले पांच दिनों के लिए इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई है.

इससे पहले पुलिस फायरिंग में हुई 13 लोगों की हत्या के खिलाफ एम के स्टालिन अन्य पार्टी नेताओं के साथ तमिलनाडु सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे थे. जहाँ से स्टालिन ने कहा था कि 12 मासूम लोगों की मौत के बावजूद कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है. सीएम तूतीकोरिन जाकर लोगों से मिले भी नहीं. इसलिए उन्होंने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से इस्तीफा देने की मांग भी की थी. 

इस मामले को लेकर तमिल नाडु के एक अधिवक्ता ने दिल्ली उच्च न्यायलय में याचिका भी लगा रखी है, इस याचिका में उन्होंने अदालत से अपील की है कि एनएचआरसी पुलिस या मुख्यसचिव से रिपोर्ट मांगने की बजाय खुद तूतीकोरिन जाए और अलग से जांच करवाए. बताया जा रहा है कि दिल्ली हाई कोर्ट शक्रवार को इस याचिका पर सुनवाई कर सकती है.

स्टरलाइट विवाद: कंपनी बंद होने से बुझे 32 हज़ार 500 चूल्हे

रासायनिक कंपनी के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर भारतीय नागरिकों पर गोलीबारी. क्या तमाशा चल रहा है?

बेगुनाहों की मौत पर माधवन और सिद्धार्थ ने जताया शोक

 

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -