MeToo मामले में एम जे अकबर ने दर्ज कराया बयान, 20 मई को भी जारी रहेगी सुनवाई

May 04 2019 02:53 PM
MeToo मामले में एम जे अकबर ने दर्ज कराया बयान, 20 मई को भी जारी रहेगी सुनवाई

नई दिल्ली: MeToo के आरोपों में घिरे पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर की तरफ से पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ दाखिल आपराधिक मानहानि मामले में दिल्ली की राउज एवेन्यू अदालत में शनिवार को सुनवाई कि गई. अदालत में एमजे अकबर ने अपना बयान दर्ज करवाया. अब 20 मई को भी सुनवाई जारी रहेगी. 

दरअसल, एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल की कोर्ट में शनिवार को एमजे अकबर हाजिर हुए. उन्होंने अपने बयान में अदालत को शैक्षणिक योग्यता और पेशे के बारे में जानकारी दी और प्रिया रमानी पर जानबूझकर छवि को नुक्सान पहुँचाने का आरोप लगाया है. इससे पहले एमजे अकबर ने अपना पूरा बयान दर्ज करवा दिया था. अदालत में अपना बयान दर्ज कराते हुए अकबर ने अपने पत्रकारिता करियर, लेखक होने के सम्बन्ध में जानकारी दी थी.

एम जे अकबर ने कहा था कि बतौर पत्रकार मेरा करियर बहुत लंबा रहा है, मैं बेहद छोटी आयु में ही संडे गार्जियन (कोलकाता) का एडिटर बन गया था. उन्होंने कहा है कि मैंने दैनिक अखबार टेलिग्राफ से करियर का आगाज़ किया था. 1993 में एशियन एज का एडिटर बना और उसके बाद मैं संडे गार्जियन का एडिटर नियुक्त किया गया था. अकबर ने कहा था कि प्रिया रमानी के विरुद्ध मैंने मानहानि का मामला दर्ज किया है, उन्होंने मुझपर आरोप लगाते हुए कई ट्वीट किए थे.

खबरें और भी:-

उमा भारती ने कांग्रेस को बताया 'अंग्रेज़ों की जूठन', गाँधी उपनाम को लेकर कही बड़ी बात

राफेल मामले में केंद्र सरकार की अर्जी, अदालत से कहा- ख़ारिज हों पुनर्विचार याचिकाएं

प्रतापगढ़ में पीएम मोदी की हुंकार, कहा - महामिलावट का पंजा बेहद खतरनाक, मजबूत सरकार चुनिए