सुसाइड बम बना रहा था आतंकी अबू यूसुफ, ऐसे बढ़ता था मनोबल

दिल्ली के धौलाकुआं से हिरासत में लिए गए आईएसआईएस (ISIS) के संदिग्ध दहशतगर्द अबू यूसुफ़ उर्फ़ मुस्तकीम की गिरफ्तारी के पश्चात बड़ा खुलासा हुआ है. जानकारी के अनुसार 9वीं तक पढ़े अबू यूसुफ ने टेलीग्राम ग्रुप के जरिए से आईएसआईएस (ISIS) से जुड़ा था. जिसने बम बनाकर दहशत देश में दहशत पैदा करने का बड़ा प्लान बनाया था. बताया जा रहा है कि 2005 में 6 महीने टूरिस्ट वीज़ा पर दुबई गया था, वहीं दुबई से लौटकर कुछ समय हैदराबाद में था. 2006 से 2011 से सऊदी अरब में अबू यूसुफ़ था. इस मध्य 2011 में आयशा से उसने विवाह कर लिया था. पुलिस सूत्रों से मिली सूचना के अनुसार पीओपी का कार्य करने वाला अबू यूसुफ ने सुसाइड बम निर्मित करने की तैयारी कर रहा था. 

एमपी में मौत बनी रहस्य, एक ही परिवार के इतने लोग मिले मृत

2015 में 15 दिन के लिए खाड़ी मुल्क कतर में कार्य करने के पश्चात वो सीधे उत्तराखंड गया था. इसी बीच उत्तराखंड में एक हादसे का शिकार हो गया, जिसकी वजह से अबू यूसुफ की रीढ़ की हड्डी में चोट लग गई थी. जिसके बाद उसने उतरौला में मेडिकल की दुकान खोली थी. सूत्र बताते है कि अबू दुकान पर बहुत कम बैठता था, क्योकि उसका उद्देश्य बम बनाकर धमका करना था, जिसकी वजह से वो अधिक वक्त यू ट्यूब पर वीडियो देखकर नई योजना बना रहा था

प्रधानमंत्री मोदी ने पीएम आवास में मोर को खिलाया दाना, वीडियो हुआ वायरल

पुलिस के अनुसार, इस दौरान उन्होंने वहां से दो इंसानी बम जैकेट, विस्फोटक और भड़काऊ साहित्य के अलावा वाइफ तथा चार बच्चों के पासपोर्ट जब्त किए हैं. दरअसल, गिरफ्तारी के बाद शनिवार शाम को पुलिस अबू यूसुफ को लेकर उसके घर बलरामपुर पहुंची थी. यहां उसके निवास की पड़ताल की गई. इसके साथ ही यूपीएटीएस (UP ATS) ने 3 लोगों को उठाया है, जिनसे पूछताछ चल रही है. हालांकि देर रात्रि दिल्ली पुलिस की खास सेल की टीम अबू यूसुफ को लेकर राजधानी रवाना हो गई.

अरुणाचल प्रदेश में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, बिना लक्षण के 90 संक्रमित मिले

छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटे में मिले 568 नए कोरोना केस

राजस्थान : कई जिलों में मूसलाधार बारिश के आसार, अलर्ट जारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -