इश्क़ करने की मिली ऐसी सजा की रूह कांप जाये ?

बरेली : कहते है की लोग मोहब्बत को खुदा का नाम देते है, अगर करो तो इल्जाम देते है. कुछ ऐसा ही इस मामले में हुआ है. अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने गए प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया गया. लड़की के घरवालों ने पहले तो उसकी गला दबकर हत्या कर दी फिर आत्महत्या साबित करने के लिए पेड़ से लटका दिया. पुलिस ने प्रेमिका के घर के 6 लोगों पर मामला दर्ज़ किया है. मामला फतेहगंज पश्चिमी थानाक्षेत्र का है. पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में भी गला दबाकर हत्‍या करने की पुष्‍टि हुई है.

जानकारी के मुताबिक 23 वर्षीय रिफाकत अली पुत्र गरीब उल्ला अपनी प्रेमिका सुनीता (परिवर्तित नाम ) से मिलने रविवार को उसके घर गया था.राधा के परिजनों ने दोनों को साथ देख लिया. इस गुस्‍साए परिजनों ने रिफाकत को बंधक बनाकर पिटाई शुरू कर दी. पिटाई के बाद उसे गांव के बाहर फेंक दिया. मामले की जानकारी युवक के परिजनों को हुई तो उन्होंने पंचायत बुलाई. गांव के प्रधान कफील अहमद और शकूर अहमद की मौजूदगी में पंचायत बैठी, जिसमें दोनों परिवारों के लोग शादी के लिए मान गए. इसके बाद फैसला हुआ कि सोमवार को एक बार फिर पंचायत बैठेगी और निकाह की तारीख तय कर दी जाएगी.

रविवार रात रिफाकत परिजनों को बताकर निकला कि वह बगल के गांव में उर्स में हिस्सा लेने जा रहा है. जब देर रात तक वह नहीं लौटा तो लोगों ने खोजबीन शुरू कर दी, लेकिन रात में कुछ पता नहीं चला.सोमवार सुबह दोबारा पंचायत बैठी तो लड़की पक्ष के लोगों ने कहा कि लड़के को बुलाइए, निकाह होगा. काफी खोजबीन के बाद लोगों को गांव के बाहर उत्तर दिशा में कटहल के पेड़ से लटका हुआ रिफाकत का शव मिला. आत्महत्या का रूप देने के लिए शव के गले में लोहे का तार बांधकर पेड़ से लटका दिया गया था. लेकिन शव के पैर पूरी तरह जमीन पर टिके होने के कारण परिजनों को हत्‍या किए जाने का शक हुआ. पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में भी गला दबाकर हत्‍या की जाने की पुष्‍टि हुई. एसपी देहात, यमुना प्रसाद ने कहा कि मृतक के भाई सलामत की तहरीर पर प्रेमिका के पिता अलाउद्दीन के अलावा पप्पू गोली, इरफान, नन्ने बाबू, अब्दुल खालिद, नसीम और अगरास के खिलाफ अपहरण कर हत्या का केस दर्ज किया गया है.

Most Popular

- Sponsored Advert -