लव शायरी : ना चाहा था कभी कुछ, तुम्हें चाहने से पहले , तुम मिल जो गए, खवाइशें पूरी हो गई