भगवान राम तंबू में, भाजपा कार्यालय करोड़ों का- हार्दिक

सागर: गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल इन दिनों मध्यप्रदेश मे है. बुंदेलखंड मे संभागीय किसान क्रांति सम्मेलन के दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके मंत्रियों पर मोदी-शाह का जिक्र करते हुए वोट बैंक के नाम पर किसानों को ठगने के आरोप लगाते हुए अपनी बात की शुरुआत की. हार्दिक ने बीते रोज उज्जैन में उन पर स्याही फेंके जाने की घटना को सीधे भाजपा का षड्यंत्र बताते हुए कहा कि मैं अभी 24 साल का हुआ हूं. ये लोग मुझसे इतना डर क्यों रहे हैं. रोड शो करते हुए हार्दिक कद्दावर मंत्री गोपाल भार्गव के विधानसभा क्षेत्र गढ़ाकोटा में सभा करने पहुंचे थे. हार्दिक की सभा में स्थानीय कांग्रेस नेता और भाजपा से निष्कासित नेता भी मंच साझा करते नजर आए.

किसानों के हित में बात करते हुए हार्दिक ने कहा कि जब उज्जैन और मंदसौर को नर्मदा नदी का पानी मिल सकता है तो बुंदेलखंड व सागर को नर्मदा का पानी क्यों नहीं मिल सकता. उन्होंने कहा कि हमें दिखावा नहीं करना, हमें विचार की राजनीति करना है, विचार के साथ बदलाव लाना है.

हार्दिक ने भाजपा पर राम के नाम पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए कहा कि हम जयश्री राम में विश्वास नहीं रखते, बल्कि राम-राम में हमारा विश्वास है. भगवान के नाम पर हमें बाण खींचकर विद्रोह-लड़ाई क्यों सिखाते रहे हैं, हमें शबरी के राम के संस्कार क्यों नहीं सिखाते. हार्दिक ने कहा कि 1992 से राम के नाम पर सरकार बना ली, लेकिन भगवान राम आज भी तंबू में बैठे हैं जबकि दिल्ली में भाजपा ने करोड़ों का आलीशान कार्यालय बना लिया.

मप्र में हार्दिक की बेइज्जती का वीडियों देखिये

किसान क्रांति सम्मेलन, हार्दिक सुनेंगे किसानों की समस्या

अन्ना आंदोलन में शामिल नहीं होंगे हार्दिक पटेल

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -