मतदान को पूरी तरह से स्वतंत्र, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण बनाया जाना जरूरी : मायावती

लखनऊ : बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने देश में 17वीं लोकसभा के आम चुनाव की तिथियों और सात चरणों में मतदान कराने की घोषणा का स्वागत किया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि चुनाव के बाद बनने वाली सरकार लोकतंत्र की प्रहरी, संविधान की रक्षक व सर्वसमाज के हितों की सोच रखने वाली सरकार बनेगी। 

इथियोपियन एयरलाइंस का बोइंग विमान क्रैश, 160 की मौत

मायावती बोली कुछ ऐसा 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा, लोकसभा चुनाव लोकतंत्र का राष्ट्रीय पर्व है। जिसे उसकी पवित्र संवैधानिक मंशा के हिसाब से सर्वसमाज की पूरी भागीदारी सुनिश्चित करके मनाया जाना चाहिए। मायावती ने कहा कि देश के चुनाव में सर्व समाज के करोड़ों गरीबों, मजदूरों, किसानों, महिलाओं, युवाओं व मेहनतकश लोगों की जबरदस्त भागीदारी होती है। जिसका पूरा-पूरा सम्मान करके मतदान को पूरी तरह से स्वतंत्र, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण बनाया जाना बहुत जरूरी है। 

मुझे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता, कि कोई मेरे बारे में क्या सोचता है - ओवैसी

सरकार पर किया जोरदार प्रहार 

प्राप्त जानकारी के अनुसार कहा चुनाव की पूरी प्रक्रिया साफ व विश्वसनीय होनी चाहिए जिससे सत्ताधारी पार्टी, सत्ता का किसी भी प्रकार से दुरुपयोग नहीं कर पाए। मायावती ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी सरकार ने पिछले पांच वर्षो के निरंकुश व अहंकारी शासनकाल के दौरान अब तक जो कुछ भी किया है वह ज़्यादातर मामलों में गरीब, जनविरोधी व धन्नासेठ समर्थक रहा है। साथ ही देश में अशांति, असंतोष व आक्रोश पैदा करने वाला भी रहा है। इसलिये चुनाव के बाद की नई सरकार ऐसी होना चाहिए जो लोकतंत्र की प्रहरी, संविधान की रक्षक व सर्वसमाज के हितों की सोच रखने वाली हो। 

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव का कार्यक्रम तय, इस तारिख को होगा मतदान

लोकसभा चुनाव: बिहार का पेंच सुलझाने के लिए कांग्रेस करेगी राजद से चर्चा

लोकसभा चुनाव का पूरा कार्यक्रम, जानिए राज्यवार मतदान की तिथि

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -