लॉकडाउन बढ़ेगा या नहीं यह केंद्र करेगा तय

लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई को समाप्त हो रहा है, लेकिन इसके बाद लॉकडाउन बढ़ेगा या समाप्त होगा, इसको लेकर राज्य की ओर से कोई प्रस्ताव नहीं दिया गया। कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि यह केंद्र सरकार तय करेगी। राज्य की ओर से केंद्र से कुछ रियायतें दिए जाने का सुझाव भेजा है, लेकिन अंतिम फैसला केंद्र का है।लॉकडाउन बढ़ाने या समाप्त करने पर राज्य सरकार के निर्णय को लेकर पूछे सवाल पर कौशिक ने कहा कि हमारी ओर से इस तरह का कोई प्रस्ताव केंद्र को नहीं भेजा है। 

सरकार ने केंद्र से पर्यटन गतिविधियां, धार्मिक गतिविधियां, शापिंग माल और सिनेमाघर खोलने की अनुमति मांगी है।स्कूल कालेज खोलने का प्रस्ताव राज्य की ओर से नहीं भेजा गया है। ऐसी संभावना है कि केंद्र सरकार लॉकडाउन का पांचवां चरण ला सकती है। अगर ऐसा होता है तो राज्य को कुछ और रियायतें दी जाएं, जिससे आर्थिक गतिविधियों का संचालन हो सके।प्रदेश सरकार के दुकानों को सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक खोलने के निर्णय लेने के बाद शुक्रवार दोपहर बाद शासनादेश जारी हुआ। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की शासन स्तर से आदेश जारी करने में हुई देरी के कारण कई जिलों में असमंजस की स्थिति बनी रही।कुछ जिलों ने तो आदेश के अभाव में शाम चार बजे दुकानें बंद करवा दी। अब शनिवार से सभी जिलों में दुकानों को सुबह सात से शाम सात बजे तक खोला जा सकेगा।प्रदेश में लौटे उत्तराखंड के प्रवासियों में सर्वाधिक संख्या महाराष्ट्र से आए लोगों की है। वापस आए प्रवासियों में से 57 प्रतिशत महाराष्ट्र से हैं। इसके अलावा अन्य राज्यों से बड़ी कम संख्या में लोग लौटे हैं।

इस खूबसूरत देश में कोरोना से नहीं हुई एक भी मौत, चीन से लगती है बॉर्डर

जीएसटी काउंसिल की बैठक पर टिकी है व्यापार वर्ग की निगाहे

कबीर सिंह देखकर फर्जी डॉक्टर बना लड़का और किया यह गंदा काम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -